Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

लुटियंस दिल्ली को बदलने की योजना, राष्ट्रपति भवन, संसद भवन में भी होंगे बदलाव

2024 के लोकसभा चुनावों के बाद आपके चुने हुए प्रतिनिधि नये पार्लियामेंट में बैठेंगे।
अपडेटेड Sep 15, 2019 पर 12:23  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अब दिल्ली के एतिहासिक चेहरे को भी पूरी तरह से बदलने की तैयारी है और तो और देश को नई संसद भी मिलने जा रही है। दिल्ली के 3.5 किमी एरिया को रीकंस्ट्रक्शन किया जाएगा। इसमें नार्थ ब्लॉक, साउथ ब्लॉक, राष्ट्रपति भवन, संसद भवन का एरिया शामिल है। सरकार ने इसके लिए प्रस्ताव तैयार कर लिया है। 2024 के लोकसभा चुनावों के बाद आपके चुने हुए प्रतिनिधि नये पार्लियामेंट में बैठेंगे। नया पार्लियामेंट ज्यादा भव्य और अत्याधुनिक तकनीक से लैस होगा। सरकार ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। नये पार्लियामेंट का स्वरूप क्या होगा आइए जानते हैं।


संसद भवन के कायाकल्प की तैयारी शुरू हो गई है लेकिन संसद का नया स्वरूप कैसा होगा अभी साफ नहीं है। सरकार सभी विकल्पों पर विचार कर रही है। हैरिटेज बिल्डिंग होने की वजह से इसमें ज्यादा बदलाव नहीं होगा। मौजूदा भवन के बाहरी स्वरूप बदलने की योजना नहीं है। क्या सेंट्रल हॉल को लोकसभा में बदला जाए या लोकसभा परिसर को राज्यसभा में बदला जाए? इन सभी विकल्पों पर सरकार ने सुझाव मांगे हैं। इसके लिए अक्टूबर 2019 तक टेंडर जारी करने की योजना है। सरकार अगले साल से कंस्ट्रक्शन शुरू करना चाहती है। सरकार की सभी मंत्रालयों को भी एक जगह ले जाने की योजना है। मंत्रालयों पर 1,000 करोड़ रुपये किराया का खर्च आता है जिसको देखते हुए अत्याधुनिक तकनीक से लैस मंत्रालय बनाने की भी योजना है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।