Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Kisan Maan Dhan Yojana: किसानों को हर महीने मिलेगा 3000 रुपए, जानिए कैसे

किसान मान धन योजना के तहत किसानों को 60 साल के बाद 3,000 रुपये मासिक पेंशन मिलेगी
अपडेटेड Sep 12, 2019 पर 10:17  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मोदी सरकार ने अपने पहले कार्यकाल में प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना की शुरुआत की थी। अब इसके बाद दूसरे कार्यकाल में किसान मान धन योजना की शुरुआत की है। इस योजना को 3 साल में 5 करोड़ लघु सीमांत किसानों तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना के तहत किसानों को 60 साल के बाद 3,000 रुपये मासिक पेंशन मिलेगी। पीएम मोदी कल 12 सितंबर को इस योजना का शुभारंभ झारखंड से करेगें। इसके लिए प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है। किसानों का रजिस्ट्रेशन भी शुरु हो चुका है। इसका फंड LIC मैनेज करेगी। इस योजना में शामिल होने के लिए किसानों की उम्र 18-40 के बीच होनी चाहिए। इसमें किसानों को 55 रुपये से 200 रुपये मासिक देना होगा। इसमें जितने रुपये किसान भरेंगे, उतनी ही रकम केंद्र सरकार भी भरेगी।


किसानों की जेब पर अतिरिक्त बोझ नहीं


प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना की दिलचस्प बात ये है कि किसानों की जेब पर कोई अतिरिक्त बोझ नहीं है। किसानों को पीएम किसान स्कीम के जो पैसे आते हैं उन्हें सीधे किसान मान धन योजना में ट्रांसफर कर सकते हैं। इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों की मंजूरी जरूरी है। लाभार्थी के एक बार मंजूरी देने के बाद पीएम किसान स्कीम के फंड से पैसे किसान मान धन योजना में ट्रांसफर होते रहेंगे।


जो लोग पेंशन योजना के लिए पीएम-किसान फंड का उपयोग नहीं करना चाहते हैं, उन्हें Common Service Centers (CSS) में अपनी मासिक किस्त जमा करने की अनुमति दी जाएगी।


किसान मान धन योजना क नियम


केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र तोमर ने पिछले महीने कहा था कि यदि किसी किसान की सेवानिवृत्ति से पहले मृत्यु हो जाती है, तो Spouse (पति/पत्नी) कोई भी इस योजना को जारी रख सकते हैं। यदि पति/पत्नी इस योजना को जारी नहीं रखना चाहते हैं तो किसान द्वारा जो भी राशि दी गई है, उसे ब्याज के साथ भुगतान कर देंगे। 
विशेष मामले में यदि Spouse नहीं हैं तो Nominee को पेमेंट कर दिया जाएगा। सेवानिवृत्त के बाद किसान की मृत्यु होने पर पति/पत्नी के परिवार को पेंशन के रूप में 50 फीसदी मिलेगा। किसान और Spouse दोनों की मृत्यु होने पर जमा राशि को पेंशन फंड में वापस क्रेडिट किया जाएगा।   


किसान मान धन योजना में अपनी इच्छानुसार बाहर आ सकते हैं


इस योजना के तहत लाभ लेने वाले किसान अगर नियमित रूप से प्रीमियम भर रहे हैं। तो 5 साल बाद आप योजना से बाहर निकल सकते हैं। ऐसे मामले में आपके द्वारा दी गई राशि में LIC सेविंग बैंक रेट्स के बराबर ब्याज के साथ आपकी रकम वापस कर देगी।


मोदी सरकार की यह योजना बेशक किसानों के लिए बुढापे की लाठी साबित होगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।