Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

दिल्ली में प्रदूषण से पर्यटक गायब, घरेलू और डोमेस्टिक दोनों ही कर रहे तौबा

ऐतिहासिक धरोहरों से समृ्द्ध दिल्ली के पर्यटन पर आजकल प्रदूषण की मार पड़ रही है।
अपडेटेड Nov 06, 2019 पर 17:14  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

ऐतिहासिक धरोहरों से समृ्द्ध दिल्ली के पर्यटन पर आजकल प्रदूषण की मार पड़ रही है। घरेलू और डोमेस्टिक दोनों ही पर्यटक दिल्ली से तौबा कर रहे हैं। जो पहले आए वो भी बीच में ही अपनी यात्रा खत्म कर रहे हैं।


दिल्ली में दम घुटता है, सांसों की इमरजेंसी है। दिल्ली घूमने आए पर्यटकों को लगता है कि वो गैस चेंबर में आ गए हैं। इसलिए दिल्ली के पर्यटन स्थल पर सन्नाटा पसरा है। टूर ऑपरेटर्स का कहना है प्रदूषण के चलते करीब 15-16 फीसदी पर्यटकों ने बुकिंग रद्द कराई है। एक हफ्ते में एयर लाइंस की टिकट बुकिंग में भी करीब 17 फीसदी की कमी आई है। ऑपरेटर्स का कहना है कि पर्यटक दिल्ली आए बिना नजदीकी पर्यटन स्थलों तक जाने का विकल्प खोजने लगे हैं।


विदेशी पर्यटकों को छोड़िए अब जो लोग दिल्ली में रहते हैं वो खुद भी दिल्ली से बाहर जाने लगे हैं। वहीं घरेलू पर्यटक दिल्ली की जगह शिमला, मनाली, नैनीताल, कुल्लू, धर्मशाला जाना पसंद कर रहे हैं।


विदेशों से भारत आने वाले टूरिस्टों की संख्या फिलहाल 1 करोड़ है जिसमें दिल्ली का हिस्सा 30 से 40 फीसदी है। सरकार ने 2020 तक इसे दोगुना करने का टारगेट रखा है। लेकिन पॉल्यूशन की वजह से पर्यटक दिल्ली से दूरी बना रहे हैं। ऐसे में अगर इसका सॉल्यूशन नहीं निकला तो टूरिज्म को जोर का झटका लग सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।