Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

पोंजी स्कीम कंपनियों पर कसा शिकंजा

प्रकाशित Fri, 10, 2018 पर 08:49  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

डायरेक्ट सेलिंग के नाम पर पिरामिड मार्केटिंग करने या फिर पोंजी स्कीम चलाने वाली कंपनियों पर नकेल कस गई है। केन्द्र सरकार ने 21 राज्यों के अंदर नोडल ऑफिसर की नियुक्ति कर दी है। ये नोडल ऑफिसर पोंजी स्कीम चलाने वाली कंपनियों की निगरानी करेंगे। साथ ही धोखाधड़ी की शिकायत मिलने पर कार्रवाई भी कर करेंगे। नोडल ऑफिसर की तैनाती कंज्यूमर अफेयर्स मंत्रालय ने की है। ऐसी कंपनियों की शिकायत इन नोडल अधिकारियों के पास की जा सकेगी। गड़बड़ी की शिकायत मिलने पर कार्रवाई होगी। कंपनियों को भी नोडल अधिकारी को जानकारी देनी होगी। इनको कारोबार में बदलाव करने पर सूचना देनी होगी।


बता दें कि पिरामिड मार्केटिंग के तहत डायरेक्ट सेलिंग का काम होता है। पॉन्जी स्कीम के चलते लोगों से फ्रॉड होता है। 2016 में डायरेक्ट सेलिंग पर गाइडलाइंस जारी हुई थी। इस गाइडलाइंस में नोडल अधिकारी बनाने का प्रवाधान था।