Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

फर्टिलाइजर सब्सिडी सीधे किसानों के खाते में डालने की तैयारी: सूत्र

अभी सब्सिडी की रकम फर्टिलाइजर मैन्युफैक्चर्स को दी जाती है।
अपडेटेड Jan 15, 2020 पर 08:51  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

LPG सब्सिडी के तर्ज़ पर फर्टिलाइजर सेक्टर में भी सब्सिडी मॉडल लागू करने की प्रक्रिया तेज हो गई है। सूत्रों से मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक फर्टिलाइजर सेक्टर में भी डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर मॉडल लागू होगा। फर्टिलाइजर सेक्टर में भी DBT का रास्ता साफ हो गया है। अगले 4-5 महीने में डीबीटी योजना लांच करने की तैयारी है। इससे भारी सब्सिडी बकाए से जूझ रही फ़र्टिलाइज़र कंपनियों को फायदा होगा। पीएम किसान योजना के साल भर पूरा होने पर तकनीकी दिक्कतें दूर हो गई हैं। DBT के लिए फर्टिलाइजर मंत्रालय PMKY किसान योजना के आंकड़ों का इस्तेमाल करेगा। पीएम किसान योजना में किसान के जमीन के साथ बैंक डिटेल्स भी मिले हैं। फर्टिलाइजर मंत्रालय ने एग्रीकल्चर मंत्रालय के साथ मिलकर इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी है।


सूत्रों के मुताबिक फर्टिलाइजर सब्सिडी के लिए PMKY किसान योजना के शर्तों के इस्तेमाल पर विचार किया जा रहा है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने भी डीबीटी जल्द शुरू करने का निर्देश दिये हैं। इस योजना के तहत प्रति हेक्टेयर खपत की मात्रा साइंटिफिक आधार पर तय होगी। बता दें कि अभी किसान प्रति हेक्टेयर दोगुना फर्टिलाइजर का इस्तेमाल करते हैं। डीबीटी से सब्सिडी में 20-30 फीसदी की बचत संभव है। फर्टिलाइजर सब्सिडी पिछले साल करीब 74 हजार करोड़ रुपये रही थी। अभी सब्सिडी की रकम फर्टिलाइजर मैन्युफैक्चर्स को दी जाती है।


 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।