Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

एफपीआई के निवेश की सीमा में ढील देने का प्रस्ताव:सूत्र

जल्द ही आईपीओ या फिर एफपीओ में विदेशी निवेशक ज्यादा पैसे लगा पाएंगे।
अपडेटेड Mar 22, 2019 पर 14:07  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जल्द ही आईपीओ या फिर एफपीओ में विदेशी निवेशक ज्यादा पैसे लगा पाएंगे। सीएनबीसी-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक सरकार इन इंस्ट्रूमेंट्स में एफपीआई यानी फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टमेंट की सीमा बढ़ाने पर विचार कर रही है। ऐसा होने पर विदेशी निवेश के साथ-साथ करंट अकाउंट डेफिसिट पर काबू पाने में भी मदद मिलेगी। अभी आईपीओ/एफपीओ में अधिकतम 50 फीसदी सब्सक्रिप्शन की सीमा है। अभी एक कंपनी में अपने निवेश का अधिकतम 20 फीसदी निवेश की सीमा है। कॉरपोरेट बॉन्ड में एफपीआई के निवेश की सीमा 20 फीसदी से बढ़ाई गई है। इस पर अगले हफ्ते वित्त मंत्रालय और सेबी के बीच बैठक हो सकती है।