Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

रबी की MSP करीब 5% बढ़ी, BSNL, MTNL के रिवाइवल को मिली मंजूरी

केंद्रीय कैबिनेट ने सभी रबी फसलों का समर्थन मूल्य 5% के करीब बढ़ाया है।
अपडेटेड Oct 24, 2019 पर 10:28  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सीएनबीसी-आवाज़ ने आपको कल ही खबर दी थी कि दिवाली से पहले सरकार किसानों को बढ़ी हुई MSP का तोहफा दे सकती है। आज केंद्रीय कैबिनेट ने इसपर मुहर लगा दी है। इसके अलावा BSNL, MTNL के रिवाइवल और पेट्रोल की रिटेलिंग पर भी बड़े फैसले हुए हैं।


केंद्रीय कैबिनेट ने सभी रबी फसलों का समर्थन मूल्य 5% के करीब बढ़ाया है। गेहूं की MSP को 1840 रुपये से बढ़कर 1925 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है। वहीं, जौ की MSP में 85 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी हुई है। मसूर की MSP बढ़कर 4800 रुपये प्रति क्विंटल कर दी गई है। वहीं, सरसों की MSP बढ़कर 4425 रुपये प्रति क्विंटल कर दी गई है। चने पर MSP बढ़कर 4875 रुपये प्रति क्विंटल कर दी गई है। गेहूं पर MSP में 85 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गई है। इस बैठक में बाजरे की MSP बढ़ाने को भी मंजूरी मिली है।


कैबिनेट की बैठक में आज 5 बड़े फैसले लिए गए  जिसमें BSNL/MTNL का रिवाइवल भी शामिल है। कैबिनेट ने BSNL/MTNL के रिवाइवल को हरी झंडी दे दी है। दोनों कंपनियों को 4G स्पेक्ट्रम का आवंटन होगा। कर्मचारियों के VRS प्लान को भी मंजूरी दी गई है। रिवाइवल के लिए BSNL/MTNL को करीब 14,000 करोड़ का फंड मिलेगा। इसमें से BSNL को 10,000 करोड़ और MTNL को 4,000 करोड़ रुपये मिलेंगे। ये पैसा कर्मचारियों का VRS देने में इस्तेमाल होगा।


पेट्रोल, डीजल की रिटेलिंग पॉलिसी में भी बड़े बदलाव को मंजूरी मिल गई है। जिससे अब पेट्रोलियम रिटेलिंग आसान हो जाएगी। इसके लिए पेट्रोल ट्रांसपोर्ट मार्केटिंग गाइडलाइंस में बदलाव किया गया है। अब पेट्रोल, डीजल की रिटेलिंग के लिए रिफाइनरी लगाने की जरुरत नहीं होगी। 250 करोड़ रुपये नेटवर्थ वाली कंपनी को भी पेट्रोल, डीजल की रिटेलिंग की इजाजत होगी लेकिन इनको 5 फीसदी पेट्रोल आउटलेट ग्रामीण इलाकों में लगाने होंगे। कंपनिया एविएशन ट्रबाइन फ्यूल भी बेच सकेंगी।


सरकार ने दिल्ली की अवैध कॉलोनियों पर भी बड़ा  फैसला लिया है। यूनियन मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा है कि दिल्ली की अवैध कॉलोनियां नियमित होंगी। BSNL/MTNL के रिवाइवल पर बोलते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर पर्साद ने कहा है कि BSNL-MTNL के एसेट का मॉनेटाइजेशन होगा। बॉन्ड्स के जरिए BSNL-MTNL 15,000 करोड़ रुपये जुटाएंगी। 4 साल में BSNL-MTNL के 38,000 करोड़ रुपये के एसेट का मॉनेटाइजेशन होगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।