Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

क्रेडिट पॉलिसी में जस का तस, ईएमआई बढ़ने का खतरा टला

प्रकाशित Fri, 05, 2018 पर 14:33  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। बाजार के अनुमान के उलट आरबीआई ने सभी पॉलिसी दरों को जस का तस रखा है। लिहाजा रेपो रेट 6.5 फीसदी पर बरकरार रहेगा। वहीं रिवर्स रेपो रेट 6.25 फीसदी पर कायम रहेगा। यानि अब आपकी ईएमआई बढ़ने का खतरा नहीं है। आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल ने साफ किया है कि अब जल्द दरों में कटौती की संभावना नहीं है।


आरबीआई ने ग्रोथ को लेकर चिंता जताई है। रिजर्व बैंक ने अपने रुख में बदलाव किया है। आरबीआई ने वित्त वर्ष 2019 में जीडीपी ग्रोथ लक्ष्य 7.4 फीसदी पर बरकरार रखा है। आरबीआई के मुताबिक जुलाई-सितंबर में महंगाई दर 4 फीसदी और अक्टूबर-मार्च में 3.9-4.5 फीसदी रहने का अनुमान है। अप्रैल-जून 2019 में महंगाई दर 4.8 फीसदी रहने का अनुमान है। वित्त वर्ष 2019 में वित्तीय घाटा 3.3 फीसदी रहने का अनुमान है।


आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल ने कहा कि फॉरेक्स मार्केट में उठापटक और कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों की वजह से महंगाई को लेकर चिंता हो सकती है। हालांकि आरबीआई को कमजोर रुपये से कोई खास चिंता नहीं है। आरबीआई गवर्नर ने कहा कि अभी भी रुपया रियल एक्सचेंज इफेक्टिव रेट में करीब 5 फीसदी ही कमजोर है और ये पूरी तरह से मांग और सप्लाई की वजह से हुआ है। फिर भी आरबीआई की नजर इस पर है।