Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

जीरो बैलेंस अकाउंट पर RBI का तोहफा, 1 सितंबर से मिलेगा लाभ

RBI ने बेसिक सेविंग बैंक अकाउंट के मामले में नियमों में कुछ छूट दी है
अपडेटेड Aug 06, 2019 पर 15:37  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मोदी सरकार ने देश के अधिकतर लोगों को बैंकिंग सेक्टर से जोड़ा। जन-धन एकाउंट के जरिए कई लोगों का एकाउंट खुला। अब आरबीआई भी बेसिक सेविंग बैंक डिपोजिट एकाउंट (BSBD) अकाउंट होल्डर्स के लिए एक तोहफा दे रही है। इस तहफे का लाभ एकाउंट होल्डर्स को 01 सितंबर से मिलेगा। आरबीआई ने एक गाइडलाइन लेकर आया है। इसके तहत सभी प्राइमरी (शहरी) सहकारी बैंकों में बेसिक सेविंग एकाउंट्स और सभी राज्य या केंद्रीय सहकारी बैंकों को इन नए नियमों को मानना होगा।


BSBDएकाउंट जीरो बैलेंस एकाउंट को कहते हैं। यह एक प्रकार का सेविंग एकाउंट है, जिसमें एकाउंट होल्डर्स को फ्री में बैंकिंग सुविधाएं दी जाती है। जीरों बैलेंस एकाउंट में कितना भी बैलेंस रखो, इसकी कोई बाध्यता नहीं होती। इस पर किसी भी प्रकार का कोई जुर्माना नहीं लगाया जाता। जीरो बैलेंस एकाउंट को आप किसी भी बैंक में खोल सकते हैं।


RBI ने BSBD एकाउंट से जुड़ी सुविधाओं को बदलने का निर्णय लिया है। साथ ही बैंकों से BSBD एकाउंट में कुछ बेसिक जरूरी सुविधाएं देने के लिए कहा है। आरबीआई ने अपने आदेश में साफ तौर पर कहा है कि BSBD एकाउंट को सभी के लिए मौजूद सामान्य बैंकिंग सर्विस मानी जाएगी। ये एकाउंट उन लोगों को लिए बेहतर है जिन्हें खाते में न्यूनतम राशि भी नहीं रहती इसमें सीमित ट्रांजेक्शन भी होते हैं।



1 सितंबर से कौन सी मिलेंगी सुविधाएं


एटीएम या कैश डिपोजिट मशीनों के साथ-साथ बैंक की ब्रांच में नकदी जमा कर सकते हैं।


किसी भी इलेक्ट्रॉनिक चैनल के जरिए या केंद्र या राज्य सरकारों की एजेंसियों और विभागों द्वारा जमा किए गए चेक के जमा या कलेक्शन से राशि निकाल सकते हैं।


एक महीने में चाहे जितनी बार पैसे निकालें उसकी कोई लिमिट नहीं रहेगी।


एटीएम से पैसे निकालने पर एक महीने में चार बार निकाल सकते हैं।


इसके अलावा बैंक कई जरूरी सुविधाएं देता है। जिसमें फ्री में चेक बुक इश्यू करना भी शामिल है।


यदि आपके पास सेविंग एकाउंट है और आप जीरो बैलेंस एकाउंट खोलना चाहते हैं तो आपको अपना जीरो बैलेंस एकाउंट खोलने के 30 दिन के भीतर सेविंग एकाउंट क्लोज करना होगा। साथ बैंक को लिखकर देना होगा कि पके पास कोई भी जीरो बैलेंस एकाउंट नहीं है।