Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

उज्जवला ग्राहकों को रिफिल में राहत, नए ग्राहकों से 1 साल तक EMI नहीं

सिलिंडर रिफिल को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने तेल कंपनियों को EMI वसूली टालने का निर्देश दिया है।
अपडेटेड Sep 12, 2019 पर 08:52  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

उज्ज्वला स्कीम में गैस कनेक्शन लेने वाला लोग सिलिंडर रिफिल नहीं करवाते इसकी वजह से तेल कंपनियों को खासा नुकसान हो रहा है। ऐसे में सिलिंडर रिफिल को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने तेल कंपनियों को EMI वसूली टालने का निर्देश दिया है। अब सवाल है कि मुफ्त कनेक्शन में EMI वसूली कैसी तो समझ लें कि इस योजना के तहत लोगों को मिलने वाले सिलिंडर और स्टोव की कीमत 3200 रुपये होती है। सरकार इस पर 1600 रुपये की सब्सिडी देती है। बाकी 1600 रुपये सरकारी तेल कंपनियां लोन देती हैं फिर लोन की EMI कंपनियां वसूलती हैं। इसके लिए सिलिंडर की सब्सिडी EMI में रख लेती हैं। उज्वला योजना के लाभभोगी को EMI पूरा होने तक सब्सिडी नहीं मिलती।


बता दें कि उज्जवला कस्टमर नियमित रिफिल नहीं करवाते जिसको देखते हुए पहले भी सरकार ने EMI वसूली को टाला था। अब अगस्त 2019 से फिर EMI पर वसूली टली है। नए कस्टमर को 1 साल EMI से छूट दी गई है। लेकिन 1 साल बाद EMI भरनी होगी। इसका मकसद सिलिंडर रिफिल को बढ़ावा देना है। अब अगस्त 2019 से स्कीम में जुड़ने वाले कस्टमर को पहली रिफिल से ही ईएमआई देने की जरूरत नहीं होगी। 14.2 किलो का सिलेंडर खरीदने वाले ग्राहक को पहले 6 रिफिल पर कोई ईएमआई नहीं देना होगा। 14.2 किलो के अलावा 5 किलो के सिलेंडर पर भी ईएमआई देने की जरूरत नहीं होगी। 5 किलो वजन के पहले 17 एलपीजी सिलेंडर पर ईएमआई नहीं देना होगा। तेल कंपनियों ने जुलाई 2020 तक ईएमआई रिकवरी प्लान टालने का फैसला किया है।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।