Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Modi 2.0: 20 लाख करोड़ रुपये का पैकेज भारत को आत्मनिर्भर बनाने में निभाएगा बड़ी भूमिका-पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा है कि भारत कोरोना महामारी से जूझ रहे विश्व के सामने इकोनॉमिक रिवाइवल का उदाहरण पेश करेगा।
अपडेटेड May 31, 2020 पर 18:17  |  स्रोत : Moneycontrol.com

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मोदी 2.0 गर्वमेंट का पहला साल पूरा होने के अवसर पर देश के नाम लिखे गए अपने खुले पत्र में कहा है कि सरकार द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ रुपये का राहत पैकेज देश को आत्मनिर्भर बनाने में बड़ी भूमिका निभाएगा।


पीएम मोदी ने शनिवार को जारी अपने इस पत्र में आगे कहा है कि भारत कोरोना महामारी से जूझ रहे विश्व के सामने इकोनॉमी रिवाइवल का एक उदाहरण पेश करेगा।  आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत घोषित 20 लाख करोड़ का पैकेज भारत के हर नागरिक चाहे वो किसान हो, छोटा उद्योमी हो या किसी स्टार्टअप से जुड़ा युवा हो, उसके समक्ष नए अवसरों के युग की शुरुआत करेगा।


इस पत्र में पीएम मोदी ने आगे कहा कि दुनिया भर में इस मुद्दे पर व्यापक चर्चा हो रही है कि इस महामारी के चपेट से तमाम देशों की अर्थव्यवस्थाएं कैसे उबरेगी। कोरोना के बाद अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाना सबसे बड़ी चुनौती बन गई है।


पीएम मोदी ने आगे लिखा कि भारत के आर्थिक क्षेत्र में दुनिया को चकित और प्रेरित करने की क्षमता है। हालांकि उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि यह काम इतना आसान नहीं है और देश के सामने बहुत सारी चुनौतियां और परेशानियां है। सरकार इन्हें दूर करने के लिए लगातार प्रयास कर रही है।


प्रधानमंत्री ने पिछले 1 साल में सरकार की उपलब्धियों का लेखा देते हुए कहा कि अनुच्छेद 370, राम मंदिर, तीन तलाक और नागरिकता कानून में संशोधन लंबे समय तक याद रखे जाएगे। सेनाओं के बीच तालमेल बढ़ाने के लिए चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ के पद के गठन और 2022 में मिशन गगनयान की तैयारियों को उन्होंने सरकार की उपलब्धियां बताई।


उन्होंने पीएम किसान सम्मान निधि जैसी योजनाओं का हवाला देते हुए कहा कि गरीब, किसान, महिलाएं और युवा सरकार की प्राथमिकता सूची में बने रहेंगे। सिर्फ 1 साल में 9 करोड़ 50 लाख किसानों के खाते में 72 हजार करोड़ रुपये जमा किए गए हैं।


उन्होंने आगे कहा कि उनकी सरकार ने किसान, खेत मजदूर, छोटे दूकानदार और असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों के लिए 3000 रुपये रेग्यूलर मासिक पेंशन का प्रावधान किया है। यह पेंशन 60 साल के उम्र के बाद मिलेगी।


पीएम मोदी ने आगे कहा कि पिछले 6 साल में सरकार के उठाए गए कदमों की वजह से गांव और शहरों के बीच की खाई कम हो गई है। उन्होंने कहा कि पहली बार देश में इंटरनेट इस्तेमाल करने वालों की संख्या शहरों के मुकाबले गांवों में  10 फीसदी ज्यादा हो गई है।


उन्होंने पत्र के अंत में उपसंहार करते हुए लिखा कि सरकार द्वारा राष्ट्रहित में किए गए इस तरह के ऐतिहासिक कार्यों और निर्णयों की सूची बहुत लंबी है जिनका उल्लेख करना इस पत्र में संभव नहीं है। लेकिन मैं यह कहूंगा कि इस साल के प्रत्येक दिन मेरी सरकार ने अपनी पूरी क्षमता और उत्साह और विश्वास के साथ इन निर्णयों को लागू करने के निए अहर्निश प्रयास किया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें