Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

सऊदी अरब, भारत में 100 अरब डॉलर निवेश करने की कर रहा है तैयारी

भारत सऊदी अरब से अपनी जरूरत का कच्चा तेल 17 फीसदी और 32 फीसदी LPG खरीदता है।
अपडेटेड Sep 30, 2019 पर 13:32  |  स्रोत : Moneycontrol.com

सऊदी अरब दुनिया का सबसे बड़ा तेल एक्सपोर्टर देश है। भारत में 100 अरब डॉलर के निवेश की तैयारी कर रह है। जिसमें पेट्रोकेमिकल, इन्फ्रास्ट्रक्चर और माइनिंग सेक्टर में वृद्धि की संभावना तलाश रहा है।


सऊदी अरब के राजदूत डॉ. सऊद बिन मोहमेमद अली साती ने कहा कि भारत इन्वेस्टमेंट करने के लिए बेहतर देश है और सउदी अरब ऑयल, गैस और माइनिंग सेक्टर में लंबे समय तक इन्वेस्टमेंट करने पर नजर बनाए हुए हैं।


इकोनॉमिक टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक, सऊदी अरब एनर्जी, रिफाइनिंग, पेट्रोकेमिकल, इन्फ्रास्ट्रक्चर, एग्रीकल्चर, मिनरल(खनिज) और माइनिंग सेक्टर में निवेश करने पर विचार कर रहा है। उन्होंने आगे कहा कि सऊदी अरब की सबसे बड़ी तेल कंपनी Aramco ने Reliance Industries के साथ प्रस्तावित हिस्सेदारी से दोनों देशों के बीच रणनीतिक संबंधों के बारे में पता चलता है।


राजदूत ने कहा कि क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान का विजन 2030 विभिन्न क्षेत्रों में ट्रेड और बिजनेस सेक्टर में विस्तार होगा। सऊदी अरब विजन 2030 के तहत पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स पर आर्थिक निर्भरता कम करने का प्रयास कर रहा है।


भारत सऊदी अरब से अपनी जरूरत का कच्चा तेल 17 फीसदी और 32 फीसदी  LPG खरीदता है। उन्होंने कहा कि साल 2019 में दोनों देशों के बीच विभिन्न क्षेत्रों में संयुक्त सहयोग और निवेश के लिए 40 से अधिक अवसरों की पहचान की गई है। इसके आगे उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच 34 अरब डॉलर का bilateral trade(द्विपक्षीय ट्रेड) होता है। साथ ही इसमें आगे बढोतरी देखने को मिलेगी। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।