Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI का बैड लोन 11,932 करोड़ रुपये

SBI ने बताया कि मार्च 2019 में समाप्त वित्त वर्ष में 12036 करोड़ रुपये का फर्क आया है।
अपडेटेड Dec 15, 2019 पर 15:16  |  स्रोत : Moneycontrol.com

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक State Bank of India (SBI ने पिछले वित्त वर्ष में 11,932 करोड़ रुपये के बैड लोन डाइवर्जन की जानकारी दी है। बैंक ने य़ जानकारी 10 दिसंबर को एक्सेंज को दी है। साथ ही बैंक ने प्रोविजनिंग राशि में 12,036 करोड़ रुपए का फर्क आने की भी जानकारी दी है।


बैंक द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, SBI ने 31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष (2018-19) में non-performing assets (NPA) 1.73 लाख करोड़ रुपये बताया था। हालांकि RBI के मुताबिक यह NPA 1.85 लाख करोड़ रुपये था। वहीं बैंक का बैड लोन 1.07 लाख करोड़ है, जबकि RBI द्वारा मूल्याकंन करने पर 1.19 लाख करोड़ रुपये थी।  
नतीजन बैंक के चौथी तिमाही में नेट प्रॉफिट (शुद्ध लाभ) 838 करोड़ रुपये का है जबकि अतिरिक्त प्रवधान को ध्यान में रखते हुए 6,986 करोड़ रुपये का नेट लॉस (शुद्ध घाटा ) लगा है।


इसके अलावा SBI ने कहा कि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में ग्रॉस NPA 3,143 करोड़ रुपये बढ़ जाएगा। साथ ही नेट NPA 687 करोड़ रुपये बढ़ जाएगा। इसी तरह बैड लोन प्रोविजन 4,654 करोड़ रुपय़े बढ़ जाएगा।


बता दें कि बैंकों को केंद्रीय बैंक की फाइनल रिस्क एसेसमेंट रिपोर्ट मिलने के 24 घंटे के अंदर एनपीए और प्रोविजनिंग के आंकड़ों में फर्क की जानकारी सार्वजनिक करनी होती है। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।