Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

SEBI का बड़ा फैसला, कैश मार्केट के नॉन F&O के लिए मार्जिन हटाया

मार्केट रेगुलेटर SEBI ने कैश शेयरों में मार्जिन नियमों में राहत दी है। 20 से 40 प्रतिशत तक मार्जिन का फैसला वापस लिया है।
अपडेटेड Nov 26, 2020 पर 16:25  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

मार्केट रेगुलेटर सेबी ने अपनी बोर्ड बैठक से पहले बड़ा फैसला लिया है। सेबी ने कैश मार्केट के नॉन F&O शेयरों के लिए बढ़ाया हुआ मार्जिन वापस लेने का फैसला किया है। मार्केट रेगुलेटर SEBI ने कैश शेयरों में मार्जिन नियमों में राहत दी है। 20 से 40 प्रतिशत तक मार्जिन का फैसला वापस लिया है। वायदा बैन पर भी थोड़ी नरमी दिखाई है। अब शेयर 95 प्रतिशत पोजिशन पर ही बैन में जाएगा।


SEBI का फैसला


कैश शेयरों के लिए बढ़ाए मार्जिन पर SEBI ने बड़ा फैसला लेते हुए कैश मार्केट के नॉन F&O के लिए मार्जिन हटाया है। ये फैसला 26 नवंबर की क्लोजिंग से लागू होगा। ये मार्जिन 20 मार्च को बढ़ाया था जिसके तहत कई चरणों में 40 प्रतिशत तक मार्जिन लगा था। इसमें 20 प्रतिशत सर्किट वाले शेयरों पर ज्यादा मार्जिन लगा था लेकिन अब मार्केट फीडबैक के बाद सेबी ने ये फैसला लिया।


सेबी के नये फैसले के बाद F&O शेयरों में वायदा बैन के नियमों में थोड़ी राहत मिलेगी। इसके बाद 95 पोजिशन पर ही शेयर बैन में जाएगा। अभी 5 दिन में 15 प्रतिशत चढ़ने पर 50 प्रतिशत पोजिशन पर ही बैन में जाता है। इसके अलावा F&O में डायनेमिक प्राइसिंग लागू रहेगी। और सर्किट पर 15 मिनट का कूलिंग ऑफ रहेगा।


आज SEBI पैनल की बेहद अहम बैठक होने जा रही है। इसमें सेटलमेंट का दिन घटाकर T+1 करने पर चर्चा हो सकती है। ब्रोकर्स के CAPITAL ADEQUACY नियमों पर भी विचार संभव है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।