Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

सेंसेक्स 79 अंक गिरकर बंद, निफ्टी 10585 के पास

प्रकाशित Fri, 09, 2018 पर 15:55  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

दुनिया भर की गिरावट के सामने भारतीय बाजारों में ज्यादा कमजोरी हावी नहीं हुई। कच्चे तेल में नरमी और मजबूत रुपये से बाजार को सहारा मिला है। आज निफ्टी ने 10,545 तक गोता लगाया था लेकिन अंत में 10,585 के पास बंद हुआ है। वहीं सेंसेक्स 35,011 तक गिरा था और अंत में 35,150 के ऊपर बंद हुआ है।


मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में अच्छी खरीदारी देखने को मिली है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.7 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुआ है। निफ्टी का मिडकैप 100 इंडेक्स 1 फीसदी से ज्यादा की मजबूती के साथ 17,600 के ऊपर बंद हुआ है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.5 फीसदी की तेजी के साथ बंद हुआ है।


पीएसयू बैंक, रियल्टी, मेटल और आईटी शेयरों में बिकवाली का दबाव दिखा है। बैंक निफ्टी 0.1 फीसदी की मामूली बढ़त के साथ 25,771 के स्तर पर सपाट होकर बंद हुआ है। प्राइवेट बैंक, फार्मा, मीडिया, ऑटो, कंज्यूमर ड्युरेबल्स और ऑयल एंड गैस शेयरों में खरीदारी देखने को मिली है।


अंत में बीएसई का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 79 अंक यानि 0.25 फीसदी की गिरावट के साथ 35,158.5 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं, एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 13 अंक यानि 0.1 फीसदी गिरकर 10,585 के स्तर पर सपाट होकर बंद हुआ है।


दिग्गज शेयरों में इंफोसिस, डॉ रेड्डीज, हिंडाल्को, भारती एयरटेल, गेल, टीसीएस, रिलायंस इंडस्ट्रीज और एसबीआई 2.4-1.3 फीसदी तक गिरकर बंद हुए हैं। हालांकि दिग्गज शेयरों में यस बैंक, एचपीसीएल, इंडियाबुल्स हाउसिंग, एशियन पेंट्स, अदानी पोर्ट्स, सन फार्मा और हीरो मोटो 5.5-2 फीसदी तक चढ़कर बंद हुए हैं।


मिडकैप शेयरों में बैंक ऑफ इंडिया, जेएसडब्ल्यू एनर्जी, रिलायंस कैपिटल, ब्लू डार्ट और डिवीज लैब 6.1-3.5 फीसदी तक मजबूत होकर बंद हुए हैं। हालांकि मिडकैप शेयरों में इंडियन बैंक, ओबेरॉय रियल्टी, अशोक लेलैंड, टाटा ग्लोबल और बेयर क्रॉप 12.5-2 फीसदी तक लुढ़क कर बंद हुए हैं।


स्मॉलकैप शेयरों में इंफीबीम एवेन्यु, थीमिस मेडिकेयर, स्ट्राइड्स फार्मा, गेटवे डिस्ट्रिपार्क्स और रैमको इंडस्ट्रीज 17.1-10.7 फीसदी तक उछलकर बंद हुए हैं। हालांकि स्मॉलकैप शेयरों में सीमैक, वीटो स्विच, वी-मार्ट रिटेल, ऑरिनप्रो सॉल्यूशंस और तलवलकर्स फिटनेस 9.5-5 फीसदी तक टूटकर बंद हुए हैं।