Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

SME CORNER: एसएमई जगत की अहम खबरें, किस कंपनी का हुआ मेनबोर्ड पर माइग्रेशन

AVSL INDUSTRIES का WPC मैन्युफैक्चरिंग का ट्रायल रन पूरा हो गया है।
अपडेटेड Feb 27, 2020 पर 09:38  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

पैसा कमाने के लिए निवेशक अब बड़ी कंपनियों के साथ ही एसएमई कंपनियों में निवेश करने से नहीं कतराते हैं। कई निवेशकों ने एसएमई कंपनियों में छोटे-बड़े निवेश करके अच्छा पैसा बनाया है। इसलिए सीएनबीसी-आवाज़ आपके लिए एसएमई जगत की अहम खबरों के साथ कमाई के लिए ट्रेडिंग टिप्स भी पेश कर रहा है।


AVSL INDUSTRIES


AVSL INDUSTRIES ने एलान किया है कि उसका WPC मैन्युफैक्चरिंग का ट्रायल रन पूरा हो गया है। इसके बाद WPC कमर्शियल उत्पादन मार्च से शुरू हो जायेगा। यह कंपनी पीवीसी प्रोडक्ट बनाती है। इसके साथ ही PVC compound, HDPE/LDPE compound, PVC Filler and HDPE/LDPE Tape भी बनाती है। कंपनी को वित्त वर्ष 2019 में 2.27 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था जबकि इसी अवधि में कंपनी की आय 85 करोड़ रुपये रही थी।


IPO


कंपनी की लिस्टिंग 6 अक्टूबर 2016 को हुई थी। इसका इश्यू प्राइस 36 रुपये था। कंपनी ने आईपीओ से 5.18 करोड़ रुपये जुटाये थे। इसका वर्तमान भाव 35 रुपये है। इसकी लिस्टिंग NSE SME पर हुई थी। इसके शेयर का 52 हफ्तों का उच्च स्तर 39 रुपये और निचला स्तर 32 रुपये है।


MADHAV COPPER


MADHAV COPPER का एनएसई इमर्ज से मेनबोर्ड पर माइग्रेशन हुआ है। कंपनी को वित्त वर्ष 2019 में 4.2 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था जबकि इसी अवधि में कंपनी की आय 213 करोड़ रुपये रही थी। यह एक गुजरात की कंपनी है। यह माधव ग्रुप की कंपनी है। कंपनी माधव कॉपर नाम के ब्रांड के तहत enameled copper wire and poly wrap submersible winding wire बनाती है और उसकी सप्लाई करती है।


कंपनी Copper Bus bars, Copper Rods, Profiles, Bars, Flats, Sections, Copper fabricated Products, Tapped Insulated Copper Conductors, Paper Insulated Copper Conductors, Kapton Insulated Copper Conductors, Enamelled Copper Wires and Submersible winding wires भी बनाती है।


इस कंपनी के प्रोडक्ट्स Pump motors, Transformers, Generators, Alternators, Panels, Switch gears, high speed automatic coil winding machines and automotive CNC Machine में उपयोग किये जाते हैं। साल 2018 में कंपनी ने अपना प्रोडक्ट पोर्टफोलियो बढ़ाया और backward integration में कारोबार की शुरुआत की थी। यह भारतीय रेल के साथ मान्यताप्राप्त वेंडर के रूप में रजिस्टर्ड है। इसकी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट भावनगर गुजरात में स्थित है। कंपनी की कमाई की 81 प्रतिशत आय गुजरात से होती है।


IPO


कंपनी की लिस्टिंग 6 फरवरी 2017 को हुई थी। इसका इश्यू प्राइस 81 रुपये था। कंपनी ने आईपीओ से 4.48 करोड़ रुपये जुटाये थे। इसका वर्तमान भाव 111 रुपये है। इसकी लिस्टिंग NSE SME पर हुई थी। इसके शेयर का 52 हफ्तों का उच्च स्तर 358 रुपये और निचला स्तर 102.15 रुपये है। इसके शेयर का वर्तमान भाव 85 रुपये है और इसका आईपीओ 10.27 गुना सब्सक्राइब हुआ था।


KAPSTON FACILITIES MANAGEMENT


KAPSTON FACILITIES MANAGEMENT का एनएसई इमर्ज से मेनबोर्ड पर माइग्रेशन हुआ है। कंपनी को वित्त वर्ष 2019 में 8.56 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था जबकि इसी अवधि में कंपनी की आय 147.2 करोड़ रुपये रही थी। यह सिक्योरिटीऔर फैसिलटी मैनेजमेंट सर्विस देती है। यह तेलंगाना की दिग्गज सिक्योरिटी सर्विस कंपनी है।


IPO


कंपनी का आईपीओ 4 अप्रैल 2018 को आया था। इसका इश्यू प्राइस 92 रुपये है। इसका वर्तमान भाव 93 रुपये है। कंपनी ने इस इश्यू से 21.20 करोड़ रुपये जुटाये थे। इस शेयर का 52 हफ्तों का उच्च स्तर 111 और निचला स्तर 75.1 रुपये रहा है। इसकी लिस्टिंग एनएसई इमर्ज पर हुई थी। यह इश्यू 1.19 गुना सब्सक्राइब हुआ था।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।