Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

शेयर मार्केट अगले सप्ताहः जानिए किन 7 चीजों से तय होगी बाजार की चाल

पिछले कुछ सप्ताह से मार्केट एक रेंज में है और एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस रेंज के टूटने से इसे कोई दिशा मिल सकती है
अपडेटेड Jul 12, 2021 पर 01:08  |  स्रोत : Moneycontrol.com

शेयर मार्केट में 9 जुलाई को समाप्त हुए सप्ताह में कुछ गिरावट रही। वैश्विक संकेतों के कमजोर होने, कम बारिश और कोरोना की तीसरी लहर को लेकर चिंता से इनवेस्टर सेंटीमेंट पर असर पड़ा। BSE Sensex 98.48 पॉइंट गिरकर 52,386.19 और Nifty50 32.40 पॉइंट नीचे आकर 15,689.80 पॉइंट पर बंद हुआ।


मेटल्स, रियल एस्टेट, टेलीकॉम, कुछ बैंकों और कैपिटल गुड्स शेयर्स में अधिक खरीदारी हुई, जबकि ऑटोमोबाइल, IT, ऑयल एंड गैस और चुनिंदा फार्मा स्टॉक्स में बिकवाली रही।


आगामी सप्ताह में ट्रेडर्स की नजर इन प्रमुख बिंदुओं पर रहेगीः


अर्निंग्स


जून तिमाही के लिए लगभग 75 कंपनियां अगले सप्ताह अपने रिजल्ट की घोषणा करेंगी। इनमें इंफोसिस, विप्रो, माइंडट्री, HDFC एसेट मैनेजमेंट कंपनी और लार्सन एंड टुब्रो इंफोटेक शामिल हैं। इसके अलावा टाटा मेटालिक्स, एस्सार सिक्योरिटीज, टेस्टी डेयरी स्पेशियलिटीज, एंजेल ब्रोकिंग, टाटा एलेक्सी और टाटा स्टील लॉन्ग प्रोडक्ट्स भी अगले सप्ताह अपने रिजल्ट प्रस्तुत करेंगी।


इकोनॉमिक डेटा


मार्केट को अगले सप्ताह मैक्रोइकोनॉमिक डेटा से भी संकेत मिलेंगे। मई के लिए इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन और मैन्युफैक्चरिंग के साथ ही जून के लिए CPI इन्फ्लेशन के आंकड़े सोमवार को जारी होंगे, जबकि WPI इन्फ्लेशन की बुधवार को जानकारी दी जाएगी। जून के लिए बैलेंस ऑफ ट्रेड का आंकड़ा गुरुवार को जारी होगा और 9 जुलाई को समाप्त हुए सप्ताह के लिए फॉरेन एक्सचेंज रिजर्न की जानकारी शुक्रवार को दी जाएगी।


जोमाटो  IPO


फूड डिलीवरी कंपनी जोमाटो का इनिशियल पब्लिक ऑफर 14 जुलाई को खुलेगा। इसके लिए प्राइस बैंड 72-76 रुपये प्रति शेयर का है। इसके जरिए कंपनी की योजना 9,375 करोड़ रुपये जुटाने की है।


इसके अलावा आगामी सप्ताह में GR Infraprojects और Clean Science & Technology के पब्लिक ऑफर के लिए शेयर अलॉटमेंट होगी।


कोरोना वायरस और वैक्सीनेशन


पिछले कुछ महीनों में देश में कोरोना की दूसरी लहर से हुई तबाही का असर अब कम हो रहा है लेकिन इसके नए वेरिएंट के मामले बढ़ रहे हैं। कोरोना के अभी देश में 4,54,118 एक्टिव केस हैं। इससे रिकवरी की दर 97.20 प्रतिशत है।


हेल्थ मिनिस्ट्री के आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना के खिलाफ वैक्सीनेशन 37.21 करोड़ से अधिक हो चुका है।


Mahindra ने एक बार फिर बढ़ाई अपनी सभी गाड़ियों की कीमत, एक लाख रुपए तक महंगी हुईं कार


FII इनवेस्टमेंट


फॉरेन इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स (FII) का इनवेस्टमेंट आगामी सप्ताह में एक महत्वपूर्ण बिंदु होगा क्योंकि पिछले कुछ सप्ताह में इन इनवेस्टर्स की ओर से हुई बिकवाली से मार्केट की तेजी थमी है। हालांकि, डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स ने मार्केट में खरीदारी करना जारी रखा है। पिछले सप्ताह FII ने 2,000 करोड़ रुपये से अधिक की कुल बिकवाली की।


रुपया


दुनिया की छह बड़ी करेंसी को डॉलर की वैल्यू से मापने वाला अमेरिकी डॉलर इंडेक्स बुधवार को FOMC से जुड़ी जानकारी आने के बाद बढ़कर 92.64 पर पहुंच गया था लेकिन बाद में यह गिरकर 92.1 पर आ गया। ब्रेंट क्रूड फ्यूचर्स 75-76 डॉलर प्रति बैरल पर ट्रेड कर रहा है।


भारतीय रूपया शुक्रवार को अमेरिकी डॉलर के बदले 74.48 पर रहा, जो इससे पिछले शुक्रवार को 74.51 पर था।


टेक्निकल नजरिया


Nifty50 ने डेली चार्ट्स पर डोजी पैटर्न बनाया है। शुक्रवार को इसकी क्लोजिंग इसके ओपनिंग लेवल के करीब हुई। वीकली स्केल पर बियरिश कैंडल बन रही है क्योंकि ओपनिंग लेवल से क्लोजिंग नीचे थी।


पिछले कुछ सप्ताह में मार्केट एक रेंज में रहा है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस रेंज के टूटने पर ही मार्केट को कोई दिशा मिल सकती है।


ट्रेडर्स की इसके अलावा कई कंपनियों की एजीएम में लिए जाने वाले फैसलों और अमेरिका और जापान सहित कुछ बड़े देशों से आने वाले संकेतों में भी दिलचस्पी रहेगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।