टेक गुरुः ब्लैकबेरी Key 2 का रिव्यू -
Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

टेक गुरुः ब्लैकबेरी Key 2 का रिव्यू

प्रकाशित Mon, 13, 2018 पर 08:43  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

ब्लैकबेरी में 4.5 इंच की फुल एचडी+ स्क्रीन दी गई  है जिसे साथ मिलता है 35की बैकलिट फिजिकल कीबोर्ड का। फोटोग्रफी के लिए फोन में 12+12 मेगापिक्सल का डुअल रियर सेंसर दिया गया है और सेल्फी के लिए 8 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है। फोन क्वॉलकॉम स्नैपड्रैगन 660 प्रोसेसर पर काम करता है और इसे सपोर्ट करता है 6जीबी रैम और 64जीबी स्टोरेज का कॉम्बिनेशन। ब्लैकबेरी की-वन की तरह स्टॉक एंड्रॉयड स्मार्टफोन है और एंड्रॉयड 8.1 पर काम करता है। 3500एमएएच की बैटरी को चार्ज करने के लिए टाइप सी  पोर्ट दिया गया है। ब्लैकबेरी की-2 की कीमत है 42,990 रुपये।


ब्लैकबेरी का स्क्रीन साइज तो इम्प्रेसिव नहीं है लेकिन फोन दिखने में अच्छा है। फाइन कट डिजाइन और रबर फिनिश बैक फोन को सॉलिड लुक देता है। फोन स्लीक भी है तो आसानी से हैंडल किया जा सकता है। फोन का रबर फिनिश वाला बैक इसे स्टर्डी बनाता है। अब आते हैं फोन के हाइलाइट यानी इसके कीपैड पर। टच सेंसिटिव कीपैड को नेविगेशन के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके साथ ही हर की को किसी ऐप या दूसरे शॉर्टकट के लिए क्स्टमाइस किया जा सकता है। किसी भी की को लॉन्ग प्रेस या शॉर्ट प्रेस करने पर आप सीधे उस ऐप को ऐक्सेस कर सकते हैं।


प्रोडक्टीविटी को और बढ़ाने के लिए ब्लैकबेरी ने कनवीनियंस की का फीचर भी जोड़ा है। पावर बटन के नीचे दी गई इस की से आप कोई भी 3 ऐप को इंस्टेंटली एक्सस कर सकते हैं। प्रोडक्टीविटी टैब आपके कैलेंडर, ब्लैकबेरी हब, टू डू और फेवरेट कॉन्टैक्ट्स का खयाल रखता है। टाइपिंग को आसान बनाने के लिए क्वर्टी की पैड के साथ स्वाइप अप ऑप्शन और कुछ कस्टम रिस्पॉन्सेंस मौजूद हैं।


परफॉर्मेंस के लिहाज से ब्लैकबेरी ठीक-ठाक परफॉर्म करता है। डेली फंक्शन स्मूदली काम करते हैं लेकिन दिक्कत तब आती है जब हेवी ऐप्स के बीच कॉन्सटेंटली स्विच करना हो। यहां पर फोन कई बार फ्रीज हो जाता है। हालांकि गेमिंग करते वक्त कोई इशू नजर नहीं आता। लेकिन फ्लैगशिप फोन के हिसाब से फोन का प्रोसेसर कुछ फीका पड़ जाता है।


चलिए अब आते हैं फोन के कैमरा पर। ब्लैकबेरी की 2- स्टैंडर्ड और जूम लेंस के कॉम्बिनेशन के साथ आता है। 12 मेगापिक्सल का ये लेंस आपको 2एक्स तक लॉसलेस जूम देता है, लेकिन इसका फायदा सिर्फ अच्छी लाइटिंग में ही है। फोन में पैनोरामा और पोर्टेट फोटो लेने का ऑप्शन भी है। इसके अलावा कुछ फिलटर्स भी मौजूद हैं। सेल्फी कैमरा की क्वॉलिटी सैटिस्फैक्टरी है। फोन पर 4के रेजॉल्यूशन वीडियो बना सकते हैं साथ ही टाइम लैप्स और स्लो मो वीडियो का भी ऑप्शन भी है। फोन की वीडियो क्वॉलिटी अच्छी है और कलर रिप्रोडक्शन भी बढ़िया है। 


ब्लैकबेरी की-2 की बैटरी डिपेंडेबल है। ये एक बार फुल चार्ज होने पर पूरा दिन चल जाती है। इसे चार्ज करने के लिए टाइप सी पोर्ट दिया गया है और फोन क्विक चार्ज 3.0 भी सपोर्ट करता है। लेकिन इसके बावजूद इसे फुल चार्ज होने में 2 घंटे लग जाते हैं।
 
ब्लैकबेरी की-2 सिक्योरिटी पर खास फोकस किया है। फोन में मौजूद डी-टेक सिक्योरिटी ऐप फोन के सिक्योरिटी लेवल को दिखाता रहता है। फोन की सिक्योरिटी में कहां कमी है और इसे किस तरह बढ़ाना है इसका ब्यॉरा भी मिलता है। फोन की स्क्रीन को ताक-झाक करती नजरों से बचाने के लिए प्राइवसी शेड है जिससे आप स्क्रीन के जिस पार्ट को देखना चाहें सिर्फ उसे हाइलाइट कर सकते हैं। तो सिक्योरिटी के हिसाब से ब्लैकबेरी ने अपना काम बरकरार रखा है।