Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Tech Guru: Poco X2 का रिव्यू, जानिए कैसा है Poco X2 और क्या है इसकी कीमत

भारत में अब पोको और शाओमी ने अपने रास्ते अलग बना लीए हैं और ये होने के बाद पोको का नया स्मार्टफोन आया है Poco X2।
अपडेटेड Feb 24, 2020 पर 09:42  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

हम सब जानते हैं की भारत में अब पोको और शाओमी ने अपने रास्ते अलग बना लीए हैं और ये होने के बाद पोको का नया स्मार्टफोन आया है Poco X2। अब पोको अपने दम पर काम जरूर कर रहा है लेकीन अभी भी कंपनी निकट भविष्य में मार्केट में टिके रहने के लिए Xiaomi के कई संसाधनों को इस्तेमाल करेगी। एक बात तो क्लियर है की Poco F1 और Poco X2 को कम्पेयर नहीं कर सकते। F1 Flagship था। जब की X2 मीड रेंज फोन जैसा ज्यादा है। तो सिर्फ 15,999 के दाम में Poco X2 क्या कमाल कर देता है इस का उत्तर जानने के लिए आइए शुरू करते हैं कंपनी के नए हथियार Poco X2 का रिव्यू। सबसे पहले बात डिजाईन की।


Poco X2 में हमें ग्रेडिएंट फिनिश वाली एक चमकदार, रंगीन ग्लास बैक देखने को मिलता है। इसके अलावा कैमरा मॉड्यूल के चारों ओर दिया एक गोलाकार डिज़ाइन भी फोन को बिल्कुल अलग लुक देता है। अटलांटिस ब्लू रंग, फीनिक्स रेड या मैट्रिक्स पर्पल रंग में आप Poco X2 खरीद सकते हैं। फोन के बैक में नीचे की ओर पोको की ब्रांडिंग दी गई है। पोको एक्स2 के डिज़ाइन में मुख्य आकर्षण का केंद्र इसके कैमरा मॉड्यूल के चारों ओर दिया एक गोलाकार डिजाइन है। यह डिज़ाइन देखने में 3डी लगता है और पहली झलक में आपको ऐसा प्रतित होगा जैसे कैमरा मॉड्यूल के चारो तरफ गोलाकार ऊभार हो। कैमरा मॉड्यूल में चार कैमरा सेट किए गए हैं। कैमरा मॉड्यूल जरूरत से थोड़ा ज्यादा ऊभरा हुआ है।


फोन के दाईं ओर दिए पावर बटन में फिंगरप्रिंट सेंसर भी फिट किया गया है, लेकिन यह लंबा और पतला है, जो मेरी नज़र में ठीक नहीं है। इससे फिंगरप्रिंट रजिस्टर करने की प्रक्रिया सामान्य से अधिक समय लेती है। फोन को बाएं हाथ से इस्तेमाल करने वाले यूज़र्स को फिंगरप्रिंट का यह सेटअप थोड़ा अजीब लगेगा।
वॉल्यूम बटन पावर बटन के ऊपर सेट किए गए हैं, जिस वजह से एक हाथ से इस्तेमाल करते समय उन तक पहुंच बनाना कई बार थोड़ा मुश्किल होता है। अधिकतर शाओमी फोन की तरह फोन के टॉप पर एक इनफ्रारेड सेंसर दिया गया है। एक्स2 की बाईं तरफ दी गई सिम ट्रे हाइब्रिड है, इसलिए यदि आप माइक्रोएसडी कार्ड लगाना चाहते हैं तो आपको अपनी दूसरी सिम की कुर्बानी देनी होगी। नीचे की तरफ 3.5 एमएम ऑडियो सॉकेट, यूएसबी टाइप-सी पोर्ट और स्पीकर दिया गया है। फोन के साथ कंपनी एक पारदर्शी केस भी देती है, जो कुछ हद तक फोन को छोटी मोटी खरोंचों से बचा सकता है। इसके अलावा फोन के बॉक्स में एक 27 वॉट चार्जर और एक यूएसबी टाइप-सी केबल भी मिलती है।


इस फोन में आपको Qualcomm Snapdragon 730G चिपसेट मिलता है, जो एक अच्छी बात है। यही चिपसेट पोको के प्रतिद्वंदी ब्रांड रियलमी ने रियलमी एक्स2 में भी दिया है। इससे हम यह अदाजा लगा सकते हैं कि Poco X2 आम यूजेज और गेमिंग के मामले में अच्छा होगा।


आप पोको एक्स2 के 6 जीबी रैम और 64 जीबी स्टोरेज वेरिएंट को 15,999 रुपये में खरीद सकते हैं। इसका 6 जीबी रैम और 128 जीबी स्टोरेज वेरिएंट 16,999 रुपये में बेचा जा रहा है और हाई-एंड वेरिएंट की कीमत 19,999 रुपये है, जिसमें आपको 8 जीबी रैम और 256 जीबी स्टोरेज मिलेगी। फोन में 6.67-इंच (2340x1080 पिक्सल) डिस्प्ले है, जो 120 हर्ट्ज़ रिफ्रेश रेट सपोर्ट करता है। यह फोन की सबसे बड़ी खासियत में से एक है और इसमें कोई शक नहीं है कि 120Hz रिफ्रेश रेट डिस्प्ले की क्वालिटी और इसे इस्तेमाल करने के अनुभव को बेहतर बनाता है। लेकिन बेस्ट अनुभव उन्हीं गेम्स में लिया जा सकता है, जो 120Hz रिफ्रेश रेट को सपोर्ट करते हो। इसके अलावा HDR-10 भी डिस्प्ले के एक बड़े फीचर में शामिल है। फोन में बड़ी 4500 एमएएच क्षमता की बैटरी, एफएम रेडियो समेत सभी जरूरी सेंसर मौजूद हैं। Poco के यूआई को पोको लॉन्चर और MIUI 11.0.3 दोनों नाम से बुलाया जा सकता है। देखने में और अनुभव में यह काफी हद तक Redmi K20 और K20 Pro में देखे गए यूआई जैसा ही है। यह एंड्रॉयड 10 पर आधारित है।


Xiaomi का सॉफ्टवेयर हमेशा से बेहस का एक मुद्दा रहा है। अधिकतर शाओमी यूज़र्स फोन में अनचाहीं ऐप्स, पॉप-अप और नोटिफिकेशन में भरे हुए अनचाहें नोटिफिकेशन से बेहद परेशान रहते हैं और अब पोको ने भी इसी रास्ते को अपनाया है। फोन में पहले से इंस्टॉल कई अनचाहीं ऐप्स भरी हुई मिलती हैं। हालांकि इसे आप बंद कर सकते हैं।


Snapdragon 730G एक अच्छा प्रोसेसर है। पोको एक्स2 ने इस प्रोसेसर की बदौलत सभी ऐप्स को बड़े आराम से संभाला। फोन में मल्टी-टास्किंग बेहद आराम से होती है। हमें इस फोन को इस्तेमाल करते समय केवल एक समस्या हुई, जो था फोन के हर हिस्से तक अंगूठे का मुश्किल से पहुंचना। फोन में ओवर-हीटिंग की समस्या नहीं होती है। हालांकि गेम खेलते समय या कैमरा इस्तेमाल करते समय फोन हल्का सा गरम जरूर होता है।


डिस्प्ले बहुत ज्यादा विविड या शार्प नहीं है। हालांकि यह काफी ब्राइट और आकर्षक है और viewing angles अच्छे लगते है। फोन के फ्रंट में शामिल चौड़ा डुअल-कैमरा कटाउट कुछ एक्टिविटी के समय शायद आपका अनुभव खराब कर सकता है। हालांकि यह यूज़र के ऊपर निर्भर करता है। इस कटआउट के इर्द-गिर्द थोड़ी सी कलर ब्लिडिंग भी दिखाई देती है।


नीचे की ओर सिंगल स्पीकर दिया गया है, लेकिन यह काफी तेज है लेकीन इसमें 60 प्रतिशत से ऊपर वॉल्यूम में आवाज़ थोड़ी फटी हुई सुनाई देती है। Poco X2 में PUBG Mobile डिफॉल्ट रूप से हाई सेटिंग में चलता है। गेम का अनुभव काफी अच्छा मिलता है। आप इसमें पबजी मोबाइल या आसफॉल्ट 9 जैसे गेम्स आसानी से बिना किसी लैग के खेल सकते हैं। पोको एक्स2 की बैटरी लाइफ ठीक है। साधारण इस्तमाल में यह फोन आपका दिन आराम से निकाल सकता है।
 
पोको एक्स2 में चार रियर कैमरा और दो फ्रंट कैमरा शामिल हैं। बैक में 64-मेगापिक्सल का मेन कैमरा सेंसर है, जिसका अपर्चर साइज़ f/1.89 है और यह सोनी IMX686 सेंसर है। इसका दूसरा कैमरा f/2.2 अपर्चर वाला 8-मेगापिक्सल अल्ट्रा वाइड-एंगल लेंस है। तीसरा कैमरा 2-मेगापिक्सल का मैक्रो लेंस है, जो 2cm-10cm फोकल रेंज सपोर्ट करता है और ऑटोफोकस के साथ आता है। चौथा कैमरा 2-मेगापिक्सल का डेप्थ सेंसर है। सामने की ओर आए तो इसमें 20-मेगापिक्सल का मेन कैमरा और 2-मेगापिक्सल का डेप्थ सेंसर शामिल है।


Poco X2 की कैमरा ऐप में नॉर्मल से मैक्रो मोड में जाने के लिए ऊपर की ओर अलग से एक बटन दिया है। नीचे की ओर दाईं और बाईं ओर कई सारे मोड दिए गए हैं, जिनमें 64-मेगापिक्सल मोड, प्रो, पोट्रेट, नाइट, शॉर्ट वीडियो और स्लो मोशन मोड शामिल हैं। मेन कैमरा में फोकस लोक होने में थोडा समय लगता है। हालांकि तस्वीरों में एक्सपोज़र काफी अच्छा आया और रंग भी निखर के आए हैं। कई सब्जेक्ट की डिटेल भी काफी अच्छी आई है। पर रोशनी के कम होने के साथ तस्वीरों में डिटेल की कमी दिखनी शुरू हो जाती है।


फोन का वाइड-एंगल कैमरा काफी खराब क्वालिटी की तस्वीरें लेता है। अन्य फोन के मुकाबले इस लेंस से ली गई तस्वीरों के किनारें गोलाकार नहीं आते हैं। फोन में मैक्रो शॉट लेना भी काफी मुश्किल है। अधिकतर तस्वीरें काफी डल आती है या धुंधली हो जाती है।


कम रोशनी में कैमरा उम्मीद से अच्छा परफॉर्म करता है। आर्टिफिशियल रोशनी में भी कैमरा अच्छा परफॉर्म करता है। इसमें दिए नाइट मोड से आप कम रोशनी में कैमरा की क्वालिटी को थोड़ा बढ़ा सकते हैं और नॉर्मल तस्वीरों और नाइट मोड में खींची गई तस्वीरों में अंतर दिखाई भी देता है।


फोन के फ्रंट कैमरा में आप पोट्रेट सेल्फी भी ले सकते हैं और इसमें आप अपने मुताबिक बैकग्राउंड का ब्लर भी सेट कर सकते हैं। कैमरा सबजेक्ट के ऐज को भी अच्छे से खोजता है। हालांकि फ्रंट कैमरा की परफॉर्मेंस बहुत प्रभावित करने लायक भी नहीं है। दिन की रोशनी में ली गई सेल्फी में बैकग्राउंड काफी ब्राइट आता है, जिसकी वजह से कई बार सेल्फी बेहद अजीब दिखाई देती है।


वीडियो की बात करें तो हमें दिन की रोशनी में पोको एक्स2 की वीडियो रिकॉर्डिंग क्षमता काफी पसंद आई। वीडियो काफी क्रिस्प आती है और इसमें मोशन ट्रैकिंग भी काफी स्मूथ आता है। वीडियो में स्थिरता की कमी भी महसूस नहीं होती है। हालांकि 4K सेटिंग्स पर आते ही यह परफॉर्मेंस अच्छे से सीधा बुरे में बदल जाती है। रात के समय पोको एक्स2 में अच्छी 4K वीडियो रिकॉर्डिंग करने बेहद मुश्किल है।


भारतीय मार्केट में कम दाम में हाई-एंड स्पेसिफिकेशन देना किसी भी स्मार्टफोन ब्रांड को सफलता की ओर ले जा सकता है और शाओमी इस खेल को सालों से सफलतापूर्वक खेलती आ रही है। कंपनी पिछले कुछ सालों में ऐसे कई मॉडल पेश कर चुकी है, जो वैल्यू फॉर मनी की उपाधी हासिल कर रहे हैं। Poco X2 की कीमत ही उसका सबसे बड़ा हथियार है। रियलमी एक्स2 और रेडमी के20 ने सब-20,000 रुपये मार्केट में अपना दबदबा बनाया हुआ है। इस सेगमेंट में ऐसे कई फोन लॉन्च किए गए हैं, जो इन दोनों फोन को पछाड़ नहीं पाए हैं, भले ही वो Oppo F15 और Vivo S1 Pro हो, दोनों ही फोन पावर और फीचर्स के मामले में Realme X2 और Redmi K20 से पीछे रहे हैं। अब Poco X2 इस प्रतिस्पर्धा में अपना सिक्का जमा सकता है। लेकीन Poco X2 अपने प्रतिद्वंदी Realme X2 से हर मायनों में अच्छा है ऐसा बीलकुल भी नही है। यदि आपको रियलमी एक्स2 किसी सेल में कम दाम पर मिलता है या आपके लिए पोको एक्स2 को फ्लैश सेल में खरीदना मुश्किल हो रहा है तो आप रियलमी एक्स2 को भी एक अच्छे विकल्प के रूप में देख सकते हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।