Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

इंडियन मोबाइल कांग्रेस में बोले टेलीकॉम मंत्री, कम हो सकती हैं 5G स्पेक्ट्रम की कीमतें

5G स्पेक्ट्रम की नीलामी मार्च से पहले होगी और इसकी कीमतों में कटौती पर भी सरकार काम कर रही है।
अपडेटेड Oct 14, 2019 पर 19:40  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

5G स्पेक्ट्रम की नीलामी मार्च से पहले होगी और इसकी कीमतों में कटौती पर भी सरकार काम कर रही है। टेलीकॉम मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इंडियन मोबाइल कांग्रेस में इसकी घोषणा की। टेलीकॉम सेक्टर के दिग्गजों के बीच रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सरकार इंडस्ट्री की चिंताओं से वाकिफ है। टेलीकॉम मंत्री के सामने ज्यादातर टेलीकॉम कंपनियों ने स्पेक्ट्रम की कीमतों को लेकर चिंता रखी थी। कीमतों के अलावा कंपनियों ने नीलामी की प्रक्रिया और स्पेक्ट्रम की अहमियत पर भी जोर दिया। टेलीकॉम मंत्री ने कहा कि सरकार इंडस्ट्री के प्रति संवेदनशील है और चाहती है कि कंपनियां ग्राहक के प्रति संवेदनशील रहें। उन्होंने कहा कि जल्दी ही 5G स्पेक्ट्रम की तारीखों का एलान होगा।


रिलायंस जियो बोर्ड के डायरेक्टर महेंद्र नाहटा का कहना है कि 5G स्पेक्ट्रम की कीमतें अगर ज्यादा हुईं तो इससे ना सिर्फ 5G अव्यावहारिक हो जाएगा बल्कि इसमें देरी भी होगी। उन्होंने इंडियन मोबाइल कांग्रेस में कहा कि 5G पर व्यावहारिक रवैया अपनाने की जरूरत है। स्पेक्ट्रम सस्ता होना चाहिए। स्पेक्ट्रम नीलामी में देरी खत्म होनी चाहिए। स्पेक्ट्रम दो नीलामियों के बीच भी मिलना चाहिए। इसके लिए पिछली नीलामी की कीमत मान्य होनी चाहिए। इसमें अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था से तालमेल भी होना चाहिए। 5G स्पेक्ट्रम कीमतें गंभीरता से देखी जानी चाहिए, ऊंची कीमत से 5G अव्यवहारिक हो जाएगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।