Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

बदल रहे हैं ऑटो सेक्टर के दिन, जून में ऑटो डीलर डीमांड में देख रहे तेज रिकवरी

अप्रैल में एक भी गाड़ी नहीं बिकने के बाद ऑटो इंडस्ट्री वापस ट्रैक पर आने की कोशिश में है।
अपडेटेड Jun 21, 2020 पर 08:17  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कोरोना ने ज्यादातर इंडस्ट्रीज़ को नुकसान पहुंचाया है। ऑटो इंडस्ट्री भी उनमें से एक है जहां कोरोना से पहले भी हालत अच्छी नहीं थी लेकिन अब सुधार के कुछ संकेत नजर आ रहे हैं। अप्रैल में एक भी गाड़ी नहीं बिकने के बाद ऑटो इंडस्ट्री वापस ट्रैक पर आने की कोशिश में है। मई की बात करें तो पिछले साल के मुकाबले 85 फीसदी तक बिक्री कम थी लेकिन जून में इसमें तेजी से सुधार दिख रहा है। देश में कुल 26,500 कार डीलर्स हैं, मई में इसमें से सिर्फ 60 फीसदी शो रूम ही खुले थे लेकिन अब 80 फीसदी से ज्यादा शोरूम खुल चुके हैं। हालांकि कोरोना का खतरा अब भी बना हुआ है लेकिन अब इससे निपटने के इंतजाम भी कार लीडर्स ने कर लिए हैं। टाटा मोटर्स के शोरूम में थर्मल स्क्रीनिंग हो रही है, हैंड सेनेटाइज किए जा रहे हैं और मास्क कंपलसरी है। लोगों के बीच सुरक्षित दूरी रहे इसके लिए फ्लोर पर मार्किंग भी की गई है। इन सब के बीच लोग भी शोरूम पर पहुंच कर गाड़ियां देख रहे हैं। तय है कि इन सब बातों का असर जून की बिक्री पर दिखेगा। 
 


जून में ऑटो डीलर डीमांड में तेज रिकवरी देख रहे हैं। ग्राहकों के मौजूदा रुझान को देखते हुए अंदाजा ये लगाया जा रहा है कि जून 2019 के मुकाबले 2020 में सेल्स 70 फीसदी तक रह सकती है।  जून का महीना ऑटो इंडस्ट्री के लिए उम्मीद लेकर आया है, जहां वाहनों की बिक्री ने रफ्तार दिखाई है। लेकिन बड़ा सवाल ये है कि ये कितनी टिकाउ है। अब इस सवाल के जवाब के लिए अक्टूबर-नवंबर यानि फेस्टिव सीजन तक इंतजार करना होगा। जब ऑटो बिक्री चरम पर होती है और सालना बिक्री का करीब 30 फीसदी हिस्सा वहीं से आता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।