Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आर्थिक विकास के लिए मंत्रालयों की संख्य़ा घटानी होगी : पनगढ़िया

प्रकाशित Tue, 21, 2019 पर 15:40  |  स्रोत : Moneycontrol.com

लोकसभा चुनाव के बाद सरकार को कई तरह की चुनौतियां सामने आ सकती है। हालांकि सरकार भी इन चुनौतियों से निपटने की तैयारी की होगी। लेकिन सरकार चलाने के लिए नीति आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया ने कुछ सुझाव दिए हैं। पनगढ़िया के मुताबिक, सरकार को अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए सबसे पहले मंत्रालयों की संख्य़ा घटानी होगी। सरकार के पास तकरीबन 50 मंत्रालय है। इतने मंत्रालय किसी भी देश में नहीं है। ऐसे में नई सरकार को कम से कम 30 मंत्रालय रखना होगा। बाकी सभी खत्म करना होगा।


अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए इंटरनेशनल व्यापर समझौतों पर बातचीत करने के लिए अलग से एक यूनिट का गठन करन होगा।  निजी क्षेत्र में इनवेस्टमेंट के लिए रकम की कमी नहीं होनी चाहिए।


उन्होने सार्वजनिक क्षेत्र की सभी कंपनियों को निजीकरय़ण की सलाह दी है। साथ ही एयर इंडिया का निजीकरण बेहद जरूरी बताया।


बैकिंग सेक्टर पर पनगढ़िया ने कहा कि, सरकार को एक ऐसा नियम बनाना होगा ताकि भविष्य में एनपीए को कम किया जा सके। साथ ही एनपीए को कम किये जाने पर जो दिया।


उन्होंने अमेरिका से व्यापार रिश्ते पर कहा कि भारत सरकार को जरूरत है कि प्रधानमंत्री कार्यालय के तहत एक अलग से यूनिट बनाई जानी चाहिए। जिससे भारत-अमेरिका के व्यापार को गतचि दी सके। उन्होंने श्रम कानूनों में सुधार किए जाने की बात भी कही है।