Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

अब टोकन से होगा ऑनलाइन ट्रांजैक्शन

प्रकाशित Sat, 12, 2019 पर 15:25  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अब क्रेडिट, डेबिट कार्ड से ट्रांजैक्शन और सुरक्षित होने जा रहा है। आपको अब किसी पेमेंट के लिए अपना कार्ड नंबर नहीं बताना होगा बल्कि बैंक आपको हर बार एक टोकन नंबर जारी करेंगे। इस टोकन व्यवस्था का मकसद ट्रांजैक्शन को और मजबूत करना है।


क्रेडिट/डेबिट कार्ड ट्रांजैक्शन में होने वाले फ्रॉड से निपटने के लिए आरबीआई ने नई व्यवस्था शुरू करने के लिए गाइडलाइंस जारी किया है। नए नियम के तहत किसी भी लेनदेन के लिए क्रेडिट/डेबिट कार्ड डिटेल्स नहीं बतानी होगी। किसी भी पेमेंट के लिए आपका बैंक एक टोकन नंबर जारी करेगा और उसी टोकन के जरिए ट्रांजैक्शन हो जाएगा।


नए सिस्टम में आपके कार्ड डिटेल को विशेष कोड यानी टोकन से बदल दिया जाएगा। किसी थर्ड पार्टी ऐप या वेबसाइट को कार्ड डिटेल की जगह सिर्फ टोकन नंबर देना होगा। टोकन आने से किसी ऐप या वेबसाइट पर कार्ड डिटेल सेव होने का खतरा भी खत्म हो जाएगा। इसके अलावा पीओएस और क्यूआर कोड के जरिए भी पेमेंट में टोकन का इस्तेमाल हो सकेगा। हर पेमेंट के लिए अलग-अलग टोकन जारी होगा और इसके लिए आपको किसी तरह का चार्ज भी नहीं देना होगा। टोकन सिस्टम लागू होने से आपके क्रेडिट/डेबिट कार्ड का असली नंबर किसी को पता नहीं चल सकेगा, यहां तक कि बैंक कर्मचारी को भी नहीं और किसी भी गड़बड़ी की हालत में ट्रांजैक्शन के लिए कार्ड पेमेंट कंपनियां ही जिम्मेदार होंगी।


टोकन से लेनदेन की सुविधा फिलहाल मोबाइल फोन और टैबलेट के जरिए ही मिलेगी। फीडबैक के आधार पर बाद में दूसरे डिवाइस पर इसे लागू किया जाएगा। टोकन सिस्टम के साथ पिन जैसी व्यवस्था भी लागू रहेंगी।