Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

प्रॉपर्टी पोर्टल Square Yards का सफरनामा, जानिए कैसे कंपनी ने कैसे किया ₹220 करोड़ का मुनाफा

आज हमारे सक्सेस स्टोरी में है एक ऐसा स्टार्टअप जो घर ढूंढने और खरीदने में लोगों की मदद करता है।
अपडेटेड Nov 18, 2019 पर 09:07  |  स्रोत : Moneycontrol.com

आज हमारे सक्सेस स्टोरी में है एक ऐसा स्टार्टअप जो घर ढूंढने और खरीदने में लोगों की मदद करता है, लेकिन साथ ही रजिस्ट्री से लेकर समय पर घर की चाबी दिलवाने की भी जिम्मेदारी लेता है। ये सब काम ये स्टार्टअप ग्राहक से बिना किसी कमीशन के करता है। हम बात कर रहे हैं Square Yards की। ग्राहकों से बिना कमीशन लिए भी इस स्टार्टअप ने एक साल में 220 करोड़ रुपए का मुनाफा हासिल किया है।


39 साल के तनुज शौरी ने रेजिडेंशियल मार्केट के मौजूदा हालात को देखते हुए एक घर खरीदार की परेशानी को समझा और इसी का हल निकालने के लिए शुरू किया स्टार्टअप Square Yards। ये ऐक ऐसा ऑनलाइन प्लैटफॉर्म है जहां कोई भी अपने पसंद और बजट के हिसाब से घर खरीद सकता है। तनुज Nomura, Lehmann Brothers जैसी दिग्गज फर्म्स में काम कर चुके हैं और बैंकिंग और इंफ्रा के ताने-बाने को बखूबी समझते हैं। इसी एक्सपीरियंस के आधार पर शुरु हुआ रियल एस्टेट सेक्टर का स्टार्टअप Square Yards।


इस स्टार्टअप में तनुज के सहयोगी रहे हितेश सिंघला खुद बतौर घर खरीददार मुश्किल समय से गुजरे हैं। वे मानते हैं कि अच्छा घर खरीदने के लिए उन्हें काफी मशक्कत करनी पड़ी थी।


Square Yards की दिल्ली-NCR के अलावा मुंबई, पुणे, बंगलुरू और कोलकाता के रेजिडेंशियल मार्केट में अच्छी पकड़ है। वहीं हॉन्गकॉन्ग समेत दुबई, कुवैत गल्फ देशों में भी Square Yards एक भरोसेमंद ब्रांड बन गया है। ये स्टार्टअप ग्राहकों से कमीशन ना लेकर, डील पक्की होने पर डेवेलपर्स और बैंकर्स से कमीशन लेता है। हर साल Square Yards पर तकरीबन 15 से 18 लाख घरों की बिक्री होती है। कंपनी का दावा है कि 40 से 45 लाख रुपए के सेगमेंट के लिए प्लैटफॉर्म पर अच्छी डिमांड है।


हाल ही में इस Square Yards को BCCL और Global Proptech Investors से 2 करोड़ डॉलर की फंडिंग मिली है। वित्त वर्ष 2019 में कंपनी को 220 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। अगले वित्त वर्ष के लिए स्टार्टअप ने 100% ग्रोथ का टार्गेट भी रखा है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।