Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

कोरोना से दुनिया की लड़ाई में अमेरिकी मदद, 64 देशों को देगा 17.4 करोड़ डॉलर की अतिरिक्त आर्थिक सहायता

दुनिया भर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या को 4 लाख से 5 लाख तक पहुंचने में लगभग दो दिनों का समय लगा है।
अपडेटेड Mar 30, 2020 पर 08:36  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

पूरी दुनिया कोरोना को कहर से जूझ रही है। दुनिया भर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या को 4 लाख से 5 लाख तक पहुंचने में लगभग दो दिनों का समय लगा है। 170 से अधिक देशों और क्षेत्रों में अब तक कोविड-19 मामले  दर्ज किये गए हैं। इस महामारी से दुनिया भर में अब तक 27 352 लोगों की जान जा चुकी है। दिसंबर से विश्व में कोरोना वायरस संक्रमण के कम से कम 596779 मामले दर्ज किये गये हैं। इटली में एक दिन में रिकॉर्ड 969 लोगों की मौत हुई है, जो किसी देश में सबसे ज्यादा हैं। वहीं, स्पेन में अबतक 5138 मौतें हुई हैं। दुनिया के सबसे ताकतवर देश अमेरिका में संक्रमण के मामलों में लगातार बढोत्तरी हो रही है। अमेरिका में कल 18 हजार नए मामले सामने आए। चीन में इस वायरस से अबतक 3,295 लोगों की मौतें हुई हैं। चीन इस महामारी से लगभग उबर चुका है। बुहान में लोकल संक्रमण का इक्का-दुक्का मामला ही मिला है। चीन में जो नए मामले सामने आए हैं वो भी देश में बाहर से आए लोगों के हैं।


इन स्थितियों में अमेरिका ने शुक्रवार को कोरोना से दुनिया की लड़ाई में मदद करने के मकसद से भारत सहित विश्व के  64 देशों को 17.4 करोड़ डॉलर की अतिरिक्त आर्थिक सहायता देने एलान किया है। इस में से 29 लाख डॉलर मदद के तौर पर भारत को दिए जांएगे। यह फरवरी में अमेरिका की ओर से घोषित 10 करोड़ डॉलर की मदद के अलावा है।  घोषित की गई नई सहायता राशि US CDC सहित अमेरिका के विभिन्न विभागों एवं एजेंसियों के वैश्विक सहायता पैकेज का हिस्सा है। सहायता राशि वैश्विक महामारी के खतरे का सामना कर रहे सबसे ज्यादा जोखिम वाले 64 देशों के लिए है।


अमेरिकन इंटरनेशनल डेवलपमेंट एजेंसी (यूएसएआईडी) के उप प्रशासक बोनी ग्लिक के मुताबिक यह नई सहायता अमेरिका के वैश्विक स्वास्थ्य नेतृत्व को और मजबूत बनाएगा। आर्थिक मदद की घोषणा के अलावा अमेरिका अपने मित्र देशों की वेंटिलेटरों की जरूरत की आपूर्ति करने को भी तैयार है।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।