Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

राकेश झुनझुनवाला से Everstone के प्रशांत देसाई को मिले थे निवेश के अहम सबक, आप भी जान लीजिए

झुनझुनवाला का मानना है कि हर प्राइस पर बायर -सेलर होता है, इनमें से कौन सही है यह भविष्य ही फैसला करता है
अपडेटेड Jul 30, 2021 पर 08:30  |  स्रोत : Moneycontrol.com

स्टॉक मार्केट के मूवमेंट को भांपने का हुनर रखने वाले राकेश झुनझुनवाला के साथ काम करने से क्या फायदा हो सकता है? एवरस्टोन ग्रुप के सीनियर डायरेक्टर प्रशांत देसाई का कहना है कि उनके साथ समय बिताना स्टॉक मार्केट और इनवेस्टमेंट पर एक मास्टरक्लास लेने जैसा है।


देसाई अपने करियर की शुरुआत में झुनझुनवाला के लिए रिसर्च हेड के तौर पर काम कर चुके हैं। उन्होंने लिंक्डइन पर उन महत्वपूर्ण सबक के बारे में बताया है जो उन्हें झुनझुनवाला से मिले थे।


नई यूनिकॉर्न Droom की IPO लाने की तैयारी, इनवेस्टमेंट बैंकों से हो रही बातचीत


इनमें से पहला यह है कि निवेश को सिखाया नहीं जा सकता और निवेश करने के लिए उधार नहीं लेना चाहिए।


झुनझुनवाला मानते हैं कि प्राइस का हमेशा सम्मान करना चाहिए। प्रत्येक प्राइस पर एक बायर और एक सेलर होता है। केवल भविष्य फैसला कर सकता है कि कौन सही है।


इससे फर्क पड़ता है कि जब आप सही थे तब आपने कितना प्रॉफिट कमाया और जब आप गलत थे तब आपने कितना नुकसान उठाया।


झुनझुनवाला का मानना है कि रिस्क को हल्के में नहीं लेना चाहिए। केवल उसी रकम का निवेश करना चाहिए जिसे आप शॉर्ट टर्म में गंवाने की ताकत रखते हैं।


निवेशक के लिए आशावादी होना जरूरी है। स्टॉक मार्केट में आपके संयम की परीक्षा और आपके मजबूत इरादे को रिवॉर्ड मिलता है।


झुनझुनवाला का यह भी मानना है कि बुद्धि और संपत्ति का आपसे में संबंध नहीं है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।