Moneycontrol » समाचार » बाज़ार

अक्षय तृतीया पर बिक्री बहुत कम होने के बावजूद गोल्ड की कीमतों में तेजी

लॉकडाउन के कारण देश के अधिकतर हिस्सों में ज्वैलरी की दुकानें बंद रही। कुछ ज्वैलर्स ने ऑनलाइन बिक्री पर जोर दिया
अपडेटेड May 15, 2021 पर 09:26  |  स्रोत : Moneycontrol.com

गोल्ड खरीदने के लिए अच्छा दिन माने जाने वाले अक्षय तृतीया पर शुक्रवार को लॉकडाउन के कारण बिक्री बहुत कम होने के बावजूद इस कीमती धातु की कीमत में कुछ तेजी आई। कोरोना के मामले बढ़ने के कारण कई राज्यों में लॉकडाउन से गोल्ड ज्वैलरी की बिक्री पर बड़ा असर पड़ा।


पिछले सप्ताह इंटरनेशनल मार्केट में गोल्ड के प्राइस के 1,800 डॉलर प्रति आउंस से ऊपर जाने के बाद इस सप्ताह इसमें कुछ तेजी आई। शुक्रवार को गोल्ड का प्राइस 1,835 डॉलर प्रति आउंस पर था। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के रिसर्च हेड (कमोडिटीज), हरीश वी ने कहा, "पिछले दो सप्ताह में कमजोर डॉलर से गोल्ड की कीमतों में तेजी आई है। पिछले सप्ताह जारी अमेरिकी एंप्लॉयमेंट डेटा का गोल्ड के प्राइसेज पर अधिक असर नहीं पड़ा।"


MCX पर गोल्ड के जून कॉन्ट्रैक्ट का प्राइस 47,604 रुपये प्रति 10 ग्राम था। इसमें दिन के कारोबार के दौरान 0.35 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई।


देश के अधिकतर हिस्सों में लॉकडाउन के कारण दुकानें बंद रहने से ज्वैलर्स ने ऑनलाइन बिक्री करने की कोशिश की। कल्याण ज्वैलर्स के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर, रमेश कयानारमन ने बताया कि पिछले वर्ष लॉकडाउन के दौरान शुरू की गई उनकी गोल्ड ओनरशिप सर्टिफिकेट स्कीम के जरिए बिक्री में बढ़ोतरी होगी क्योंकि कस्टमर्स ज्वैलरी की दुकानों पर खरीदारी करने से बच रहे हैं।


उन्होंने कहा, "हमारे 20 पर्सेंट शोरूम समयसीमा के साथ खुले हैं। पिछले वर्ष के कम बेस को देखते हुए इस वर्ष अक्षय तृतीया पर बिक्री है लेकिन आंकड़ों की कोरोना से पहले की स्थिति से तुलना नहीं की जा सकती।"


कोरोना के कारण लगातार दो वर्षों से अक्षय तृतीया पर गोल्ड ज्वैलरी की बिक्री पर प्रतिकूल असर पड़ा है। ऑल इंडिया जेम एंड ज्वैलरी डोमेस्टिक काउंसिल ने बताया कि सामान्य बिक्री की तुलना में ऑनलाइन बिक्री केवल 10 से 15 प्रतिशत है। कोरोना की दूसरी लहर के कारण हो रहा नुकसान पिछली बार से ज्यादा है।


एनालिस्ट्स का मानना है कि इंटरेस्ट रेट्स के कम होने, दुनिया के कई देशों में सेंट्रल बैंकों के लिक्विडिटी बढ़ाने पर जोर और वैक्सिनेशन अभियान से गोल्ड की कीमतें आने वाले सप्ताहों में अधिक बनी रहेंगी। डॉलर के रेट्स में और गिरावट आने से भी गोल्ड महंगा हो सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।