Moneycontrol » समाचार » बाज़ार

फ्रैंकलिन टेम्पलटन के अधिकारियों पर लगाया भारी जुर्माना, सैलरी का 16-75% तक देनी होगी पेनाल्टी

फ्रैंकलिन टेम्प्लटन के सीनियर एग्जिक्यूटिव्स पर डेट स्कीम्स को संभालने में गड़बड़ी का आरोप है। इन स्कीम्स को बाद में बंद करना पड़ा था
अपडेटेड Jun 16, 2021 पर 13:30  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कैपिटल मार्केट रेगुलेटर SEBI ने फ्रैंकलिन टेमप्लटन और इसकी ट्रस्टी कंपनी के आठ एंप्लॉयीज के खिलाफ कुल 15 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। डेट स्कीम्स को संभालने में गड़बड़ियों के कारण यह जुर्माना लगाया गया है। इन स्कीम्स को बाद में समेटना पड़ा था। फंड हाउस के चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर संजय सप्रे और चीफ इनवेस्टमेंट ऑफिसर कामत प्रत्येक पर 3 करोड़ रुपये का जुर्माना लगा है।


इसके अलावा SEBI ने पांच डेट फंड मैनेजर्स में से प्रत्येक पर 1.50 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। ट्रस्टी कंपनी और कंप्लायंस ऑफिसर को भी जुर्माना चुकाना होगा।


फ्रैंकलिन टेम्प्लटन की AMC साइट पर दिए गए डिस्क्लोजर से पता चलता है कि SEBI ने कामत की एक वर्ष के 16.3 प्रतिशत का जुर्माना लगाया है। इस आमदनी में वेरिएबल पे शामिल है।


सभी फंड मैनेजर्स की ओर से कामत को रिपोर्ट की जाती थी। सप्रे पर 2 करोड़ रुपये का जुर्माना लगा है जो उनकी पिछले फाइनेंशियल ईयर की आमदनी का 54.3 प्रतिशत है।


SEBI ने फंड हाउस के अन्य डेट फंड मैनेजर्स पर भी जुर्माना लगाया है। इनमें से अधिकतर फंड मैनेजर्स बंद की गई डेट स्कीम्स को कामत के साथ संभाल रहे थे।


मार्केट रेगुलेटर के रूल्स के अनुसार, फंड हाउसेज को सीनियर एग्जिक्यूटिव्स की सैलरी का खुलासा करना होता है। इनमें CEO और फंड मैनेजर शामिल हैं। फंड हाउस को उन सभी एग्जिक्यूटिव्स की सैलरी की जानकारी इनवेस्टर्स और पब्लिक को देनी होती है जिनकी आमदनी 1.02 करोड़ रुपये से अधिक है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।