ये Banks और HFCs गैर-वेतनभोगी लोगों को भी सस्ती ब्याज दरों में देते हैं होम लोन

ये Banks और HFCs गैर-वेतनभोगी लोगों को भी सस्ती ब्याज दरों में देते हैं होम लोन

इस समय दी जाने वाली सस्ते होम लोन की दरें 6.55-6.8 प्रतिशत के बीच हैं

अपडेटेड Oct 13, 2021 पर 2:54 PM | स्रोत : Moneycontrol.com
     
     
    live
    Volume
    Todays L/H
    More

    वेतनभोगी व्यक्ति (Salaried individuals) बैंकों और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों की निगाह में कर्ज दिये जाने के लिए सबसे उपयुक्त होते और पसंदीदा होते हैं। उनकी आय के नियमित, विश्वसनीय स्रोत के कारण, उन्हें अत्यधिक क्रेडिट वाले कर्जदार के रूप में देखा जाता है।

    वहीं कुछ बैंक गैर-वेतनभोगी लोगो (non-salaried class) से कर्ज पर थोड़ी अधिक ब्याज दर वसूलते हैं, लेकिन कई अन्य कर्जदाता ऐसे भी हैं जो इन दोनों वर्गों के बीच अंतर नहीं करते हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) RBI) के पास पॉलिसी रेट्स हैं और बैंक गैर वेतनभोगी को रियायती दरों की पेशकश करते हैं और उन्हें भी वर्तमान में कम ब्याज दरों का फायदा मिलता है। ये है वे बैंक और HFCs जो Bankbazaar.com के अनुसार गैर-वेतनभोगी कर्जदारों को सबसे कम ब्याज दर उपलब्ध कराते हैं।

    सार्वजनिक क्षेत्र के प्रमुख बैंकों में से एक ये बैंक 20 साल के लिए 75 लाख रुपये से अधिक के कर्ज के लिए 6.55 प्रतिशत की ब्याज दर पेश करता है। इसकी ईएमआई 56,139 रुपये बनती है।

    निजी क्षेत्र का यह बैंक पिछले साल से लगातार सबसे सस्ते होम लोन देने वाले कर्जदाताओं की सूची में शामिल है। गैर-वेतनभोगी कर्जदारों के लिए इसकी ब्याज दर वर्तमान में 6.6 प्रतिशत है। यह बैलेंस ट्रांसफर रेट भी है। इसकी ईएमआई की राशि 56,360 रुपये होगी।

    बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने कम की होम लोन की दरें, अब 6.80 प्रतिशत पर मिलेगा Loan

    LIC Housing Finance

    सरकार के स्वामित्व वाली हाउसिंग फाइनेंस की दिग्गज कंपनी की 20 साल के लिए 75 लाख रुपये से अधिक के होम लोन के लिए ब्याज दर 6.66 प्रतिशत है। इसमें ईएमआई 56,627 होगी।

    State Bank of India

    देश का सबसे बड़े कर्जदाता अपने गैर-वेतनभोगी ग्राहकों से भी 6.7 प्रतिशत की न्यूनतम ब्याज दर ही चार्ज करता है। वहीं Mortgage lending करने वाली प्रमुख एचडीएफसी और टाटा कैपिटल भी अपने ऐसे होम लोन कर्जदारों को समान ब्याज दरों पर लोन देते हैं जो हर महीने 56,805 रुपये की ईएमआई का भुगतान करते हैं।

    Bank Of Baroda

    यह सरकारी बैंक वेतनभोगी और गैर-वेतनभोगी दोनों कर्जदारों से 20 साल के लिए 75 लाख रुपये कर्ज लेने पर समान ब्याज दर यानी 6.75 प्रतिशत चार्ज करता है। इसके अलावा IDBI Bank भी इसी की तरह समान ब्याज दर चार्ज करता है।

    सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें

    MoneyControl News

    MoneyControl News

    First Published: Oct 13, 2021 2:54 PM

    सब समाचार

    + और भी पढ़ें