Wall Street Down: सेंसेक्स के बाद अमेरिकी शेयर बाजार भी धड़ाम, शेयरों से पैसा निकाल सुरक्षित ठिकाना तलाशने में लगे निवेशक

Wall Street Down: सेंसेक्स के बाद अमेरिकी शेयर बाजार भी धड़ाम, शेयरों से पैसा निकाल सुरक्षित ठिकाना तलाशने में लगे निवेशक

शुक्रवार को अमेरिकी शेयर बाजार भी कोरोना वायरस के नए वेरिएंट के दहशत में दिखे

अपडेटेड Nov 26, 2021 पर 9:41 PM | स्रोत : Moneycontrol.comwall street

Tomatao Prices: भारतीय शेयर बाजार के साथ शुक्रवार को अमेरिकी शेयर बाजार भी कोरोना वायरस के नए वेरिएंट के दहशत में दिखे। अमेरिकी स्टॉक एक्सचेंज शुक्रवार को गिरावट के साथ खुले। ट्रैवल, बैंक और कमोडिटी से जुड़े शेयरों में सबसे अधिक गिरावट देखने को मिली। कोरोना वायरस के संभावित खतरनाक वेरिएंट मिलने की खबर से बिकवाली को लेकर काफी दबाव देखने को मिला।

Dow Jones इंडस्ट्रियल एवरेज करीब 800 अंक लुढ़क कर कारोबार कर रहा था। वहीं S&P 500 शुरुआती कारोबार में करीब 1.4 पर्सेंट के साथ ट्रेड कर रहा था। सितंबर के बाद अमेरिकी शेयर बाजार में आई यह सबसे बड़ी गिरावट है।

न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज का Nasdaq Composite इंडेक्स 1.14 पर्सेंट या 180.85 अंक गिरकर 15,664.38 पर खुला। ट्रैवल और एनर्जी सेक्टर के शेयरों में भारी गिरावट देखने को मिल रही है, जिसमें Royal Caribbean, Carnival और Norwegian Cruises जैसी कंपनियों के शेयर 10 पर्सेंट लुढ़ककर कारोबार कर रहे हैं।

यूएस ट्रेजरी यील्ड में शुक्रवार को कोरोना महामारी की शुरूआत होने के बाद से सबसे तेज गिरावट आई, क्योंकि निवेशक दक्षिण अफ्रीका में एक नए कोरोना वायरस वैरिएंट मिलने के बाद अब निवेश के सेफ ठिकाने ढूढ़ने में लग गए हैं।

इससे पहले शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजारों में भी जबरदस्त गिरावट आई। BSE सेंसेक्स आज 1,687.9 अंक गिर गया। वहीं निफ्टी करीब 509.8 अंक टूटा। इस गिरावट से भारतीय निवेशकों के करीब 7 लाख करोड़ रुपये सिर्फ एक दिन में शेयर बाजार में डूब गए।

सेसेंक्स में यह इस साल की तीसरी सबसे बड़ी गिरावट है। सेंसेक्स में साल 2021 में सबसे बड़ी गिरावट 26 फरवरी को आई थी, जब सेंसेक्स करीब 1,939 अंक गिरा था। इसके बाद 12 अप्रैल में सेंसेक्स करीब 1,707 अंक गिरा था, जो इस साल की दूसरी सबसे बड़ी गिरावट है। इसके बाद सेंसेक्स में सबसे बड़ी गिरावट आज यानी शुक्रवार 26 नवंबर को 1,687 अंकों की आई है।

MoneyControl News

MoneyControl News

First Published: Nov 26, 2021 9:41 PM