Nifty50 इस साल की दूसरी छमाही में कहां पहुंचेगा, एनालिस्ट को 17,000 का लेवल छूने की उम्मीद

Nifty50 इस साल की दूसरी छमाही में कहां पहुंचेगा, एनालिस्ट को 17,000 का लेवल छूने की उम्मीद

जानकारों का कहना है कि अगर यह मोमेंटम जारी रहता है तो निफ्टी अगले 6-12 महीने में 16,800-17,000 का लेवल छू सकता है.

अपडेटेड Jul 01, 2021 पर 5:13 PM | स्रोत : Moneycontrol.com

टेक्निकल एक्पर्ट्स का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर के बावजूद रिकॉर्ड हाई लगाने के बाद अभी भी निफ्टी में नई ऊंचाई हासिल करने की संभावना बाकी बची हुई है। लेकिन अब हमें बुल्स सुस्ते दिख सकते हैं और बाजार में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है। 2021 में अब तक निफ्टी में 13 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है। जबकि पिछले एकसाल में निफ्टी 50 फीसदी भागा है।  28 जून 2021 को इसनें अपना 15,915 का शिखर छुआ।

बाजार जानकारों का कहना है कि अगर यह मोमेंटम जारी रहता है  तो निफ्टी अगले 6-12 महीने में 16,800-17,000 का लेवल छू सकता है। लेकिन निफ्टी का यह सफर आसान नहीं होगा। आगे उसको काफी उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि बाजार कोरोना के गिरते मामलों, वैक्सीनेशन की गति में आती तेजी, इकोनॉमिक रिकवरी और कंपनियों के अच्छे नतीजों की उम्मीद जैसे तमाम अच्छी खबरों को पचा चुका है।

जानकारों का कहना है कि बाजार में हमें आगे स्टॉक स्पेसफिक एक्शन देखने को मिलेगा। ट्रेडर्स को सावधानी बरतते हुए बहुत ज्यादा लीवरेज्ड पोजीशन नहीं लेनी चाहिए और क्वालिटी स्टॉक्स में निवेश करने की रणनीति अपनानी चाहिए।

Axis Securities के राजेश पालवीय का कहना है कि निफ्टी अप्रैल 2021 से ही हायर हाईज और हयर लोज बना रहा है। एक बार अगर निफ्टी अपना 15,900 का अहम रजिस्टेंस तोड़ देता है तो फिर हम इसको शॉर्ट टर्म में 16,300 और 16,500 की तरफ जाते हुए देख सकते हैं। वहीं नीचे की तरफ इसके लिए 15,350 और 15,450 पर मजबूत सपोर्ट है। शॉर्ट टर्म और मीडियम टर्म नजरिए से देखें तो जब तक निफ्टी वीकली क्लोजिंग बेसिस पर 15,000 के ऊपर बना रहता है तब तक इसमें बुलिश ट्रेंड कायम रहेगा।

उन्होंने आगे कहा कि निफ्टी मंथली ट्रेंड इंडीकेटर भी बुलिश जोन में हैं जो इस बात का संकेत है कि निफ्टी आने वाले 6-12 महीने में 16,800 से 17,000 का स्तर देख सकता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए किसी भी छोटी गिरावट पर अच्छे शेयरों में खरीदारी करनी चाहिए।

उन्होंनें ये भी कहा कि मार्केट ब्रेड्थ में भी काफी सुधार देखने को मिला है, क्योंकि मिड और स्मॉल कैप इंडेक्स भी बुलिश नजर आ रहे हैं। ये इस बात का संकेत है कि आने वाले महीने में बाजार में व्यापक तेजी देखने को मिलेगी। आईटी, मेटल, बैंकिंग और फाइनेंशियल, कैपिटल गुड्स जैसे कोर सेक्टर बुलिश जोन में है जो आगे बाजार में तेजी आने का संकेत दे रहे हैं।

 

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.

MoneyControl News

MoneyControl News

First Published: Jul 01, 2021 5:13 PM

सब समाचार

+ और भी पढ़ें