Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड

बाजार में हैं मिड और स्मॉल कैप निवेश के कई मौके, क्या आप हैं तैयार

मिडकैप और स्मॉल कैप हाई बीटा होते हैं। इनमें हाई रिस्क और हाई रिटर्न की रणनीति के तहत निवेश किया जाता है।
अपडेटेड Jan 24, 2020 पर 10:01  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

योर मनी आपको बताएगा कि कहां कम रिस्क से ज्यादा मुनाफा मिल सकता है और साथ ही जानेंगे मिड और स्मॉल कैप में निवेश के क्या हैं फंडे और कहां है अच्छा मौका। इस पर बात करने के लिए हमारे साथ मौजूद है एटिका वैल्थ मैनेजमेंट के डायरेक्टर और CFP  निखिल कोठारी।


मिड, स्मॉलकैप फंड में निवेश कब?


मिडकैप और स्मॉल कैप हाई बीटा होते हैं। इनमें हाई रिस्क और हाई रिटर्न की रणनीति के तहत निवेश किया जाता है। मौजूदा हाल में मिड और स्मॉलकैप फंड में निवेश के बेहतर मौके नजर आ रहे हैं। वहीं, लार्ज कैप में अच्छा रन अप आ चुका है। लार्ज कैप से अब मिड कैप की ओर Divergence हो रहा है। मिड और स्मॉलकैप फंड में SIP के जरिए निवेश करना बेहतर होगा। निवेश करते समय फंड के स्टॉक मिक्स जरुर चेक करें। अपने पोर्टफोलियो को मिड और स्मॉल कैप फंड में डाइवर्सिफाय करें।


नए निवेशकों के लिए स्ट्रैटेजी


निवेश से पहले अपनी जोखिम लेने की क्षमता पहचानें। निवेश का लक्ष्य और समय सीमा तय करें। जोखिम और लक्ष्य के मुताबिक निवेश विकल्प चुनें। लंबी अवधि के लिए इक्विटी फंड में निवेश करें। छोटी अवधि के लिए डेट फंड में निवेश करें। कई फंड में निवेश ना करना हो तो बैलेंस फंड चुनें। इक्विटी फंड में निवेश से महंगाई से मुकाबला किया जा सकता है। इक्विटी फंड में निवेश से टैक्स छूट का फायदा मिलता है।


2020: Large Cap Funds


- Axis Bluechip Fund
- Kotak Bluechip Fund
- Mirae Asset Large Cap


2020: Multi-Cap Funds


- Axis focused 25 Fund
- Kotak Standard Multi-Cap
- SBI Focused Equity


2020: Mid-Cap Funds


- Motilal Oswal Mid-Cap 30
- Kotak Emerging Equity
- HDFC Mid-Cap Opp


2020: ELSS


- Axis Long-Term Equity
- Mirae Asset Tax Saver
- Kotak Tax Saver Fund


क्या होता है NFO?


- NFO यानी न्यू फंड ऑफर्स। AMC समय-समय पर NFO लाती हैं।
- इसमें नई स्कीम के लिए पहले सब्सक्रिप्शन का मौका मिलता है।
- इसमें शेयर या बॉन्ड खरीदने के लिए रकम का इस्तेमाल
- डेट, फिक्स्ड मैच्योरिटी, हाइब्रिड या इक्विटी फंड में निवेश होता है।
- क्लोज्ड एंडेड स्कीम में ऑफर पीरियड में सब्सक्रिप्शन किया जा सकता है।
- ओपन एंडेड स्कीम के यूनिट कभी भी खरीद सकते हैं।
- क्लोज्ड एंडेड स्कीम अक्सर 3 से 3.5 साल के लिए होता है।


थीमैटिक फंड में निवेश


- उभरते ट्रेंड का फायदा उठाने के लिए थीमैटिक फंड में निवेश किया जाता है।
- इसमें निवेशक को बना-बनाया पोर्टफोलियो मिलता है।
- इसमें निवेश से पहले पोर्टफोलियो को संतुलित बनाएं।
- थीमैटिक फंड में सीमित निवेश करना चाहिए।
- ज्यादा जोखिम लेने की क्षमता हो तभी इसमें निवेश करें।
- सेक्टर और थीमैटिक फंड में 10-15 फीसदी पैसा लगा सकते हैं।


 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।