Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

ऑक्सीजन सप्लाई बाधित होने से आंध्र प्रदेश के सरकारी अस्पताल में 11 कोरोना मरीजों की मौत

इस घटना के बाद जान गंवाने वाले मरीजों के नाराज परिजनों ने अस्पताल में जमकर तोड़फोड़ की, सीएम ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं
अपडेटेड May 11, 2021 पर 16:10  |  स्रोत : Moneycontrol.com

आंध्र प्रदेश के तिरुपति (Tirupati) स्थित श्री वेंकटेश्वर रामनारायण रुइया अस्पताल (SVRR) में ऑक्सीजन मिलने में देरी होने के चलते कम से कम 11 मरीजों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि ऑक्सीजन टैंकर (Oxygen Crisis) के पहुंचने में कुछ मिनटों की देरी हो गई थी, जिसकी वजह से चित्तूर जिले में स्थित सरकारी अस्पताल में सोमवार को ये दर्दनाक घटना हुई।


रिपोर्ट्स के मुताबिक, चित्तूर के जिला कलेक्टर एम. हरिनारायणन ने कहा कि तमिलनाडु के श्रीपेरंबुदूर से SVRR अस्पताल में ऑक्सीजन टैंकर के आने में देरी के कारण ऑक्सीजन की सप्लाई में लगभग 5 से 10 मिनट के लिए व्यवधान आया था। जिलाधिकारी ने कहा कि अस्पताल में ऑक्सीजन टैंकर के आने के तुरंत बाद, ऑक्सीजन की सप्लाई बहाल कर दी गई, लेकिन उस समय तक, कोरोना वायरस का इलाज करा रहे 11 लोगों की मौत हो गई।


डीएम ने कहा कि हम ऑक्सीजन की सप्लाई बहाल करके और मौतों को रोकने में सफल रहे। इस अस्पताल में करीब 1,000 रोगियों का इलाज चल रहा था और ऑक्सीजन की आपूर्ति बाधित होने से कई मरीजों को सांस लेने में गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई।


आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी (YS Jagan Mohan Reddy) ने अस्पताल में हुए हादसे पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। मुख्यमंत्री ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं।


रिपोर्ट के मुताबिक, इस घटना के बाद जान गंवाने वाले मरीजों के नाराज परिजनों ने अस्पताल में जमकर तोड़फोड़ की, जिससे डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ को वहां से भागना पड़ा। स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए वरिष्ठ जिला अधिकारी अस्पताल पहुंचे। बता दें कि कोरोना संकट के बीच देश के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन और बेड की किल्लत की खबरें रोजाना सामने आ रही हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.