Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

कश्मीर में घुसपैठ की फिराक में POK के कैंपों में बैठे हैं 500 आतंकवादी

LOC के पार कई आतंकी शिविर हैं, जिनमें लगभग 500 आतंकवादी हैं, जो कश्मीर में अवैध घुसपैठ करने की तैयारी में हैं
अपडेटेड Oct 12, 2019 पर 11:56  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पाक अधिकृत कश्मीर में स्थित आतंकी कैंपों में लगभग 500 आतंकवादी कश्मीर में घुसने की फिराक में बैठे हुए हैं। सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि लाइन ऑफ कंट्रोल के पार बॉर्डर के पास कई आतंकी शिविर हैं, जिनमें लगभग 500 आतंकवादी हैं, जो कश्मीर में अवैध घुसपैठ करने की तैयारी में हैं।


उन्होंने यह भी कहा कि 200 से 300 आतंकवादी पाकिस्तान के सहयोग से इस क्षेत्र को अशांत बनाए रखने के लिए जम्मू कश्मीर के अंदर सक्रिय हैं।


सेना की उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने जम्मू के भदरवाह में पत्रकारों से कहा- जहां तक जम्मू कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों की बात है तो बाहर से आए 200-300 आतंकवादी अपने काम में लगे हुए हैं।


सिंह ने जम्मू कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों और देश में घुसपैठ करने के लिए पीओके में तैयार बैठे आतंकवादियों की संख्या के बारे में पूछे गए सवालों के जवाब में यह बात कही।


उन्होंने कहा-  इसी तरह, करीब 500 पीओके में आतंकवादी प्रशिक्षण शिविरों में डेरा डाले हुए हैं और जम्मू कश्मीर में घुसपैठ करने के लिए तैयार बैठे हैं। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों के ट्रेनिंग प्रोग्राम के हिसाब से यह संख्या घटती-बढ़ती रहती है। उन्होंने कहा- उनकी संख्या भले जो भी हो, हम उन्हें रोकने और उनका सफाया करने में सक्षम हैं ताकि इस क्षेत्र में शांति और सामान्य स्थिति बनी रहे।


आर्मी कमांडर ने कहा कि जम्मू कश्मीर में शांति और सामान्य स्थिति सुनिश्चित करने की सेना की हमेशा से कोशिश रही है। लेकिन पाकिस्तान यहां शांति बिगाड़ने के लिए कुचेष्टा करता रहता है। आज भी पाकिस्तान के अंदर आतंकवादी ढांचा चल रहा है। उनमें आतंकवादियों के प्रशिक्षण शिविर और देश में घुसपैठ कराने के लिए उनके लांचिंग पैड शामिल हैं।


पाकिस्तान की ओर से पंजाब में ड्रोन से हथियार गिराने के सवाल पर उन्होंने कहा कि आतंकवादियों को हथियार से लैस रखने के लिए ड्रोनों की तैनाती पाकिस्तान का नया तरीका है।
लेकिन मैं आपको सुनिश्चित करना चाहता हूं कि भारतीय सेना पाकिस्तान के किसी भी नापाक मंसूबे को विफल करने में सक्षम और कृतसंकल्प है। उनके मंसूबों को सफल नहीं होने दिया जाएगा।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।