Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Delhi Corona: दिल्ली में सीरियस केस बहुत कम, 75 फीसदी मामलों में नहीं दिखते लक्षण– केजरीवाल

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि जिन मरीजों में कोरोना के लक्षण नहीं दिख रहे हैं, उनका घर पर ही इलाज किया जा रहा है
अपडेटेड May 11, 2020 पर 10:54  |  स्रोत : Moneycontrol.com

देश में कोरोना वायरस से तबाही मची हुई है। महाराष्ट्र, गुजरात और दिल्ली सबसे अधिक कोरोना संक्रमित राज्य है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेन्स करके तमाम जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जिनमें लक्षण नहीं दिख रहे उनका घर पर ही इलाज किया जा रहा है।


केजरीवाल ने कहा कि 75 फीसदी केस माइल्ड हैं या तो उनमें लक्षण नहीं दिखते हैं ऐसे मामलों में हमारी टीम सीधे उनके घर जाती है। अगर उनके घर पर सुविधा है तो उन्हें वहीं क्वारंटीन किया जा रहा है। अगर उनके घर पर सुविधा नहीं है तो उनके लिए कोविड सेंटर बनाया गया है। केजरीवाल ने कहा कि हमने जो विश्लेषण किया है उसमें 82 फीसदी लोगों ने जान गंवाई है वो 50 साल से ऊपर के थे। बुजुर्गों की कोरोना वायरस की वजह से अधिक मौत हो रही हैं।


दिल्ली के लगभग 1500 अस्पतालों में 7000 पॉजिटिव केस हैं। इनमें से 27 वेंटिलेटर पर हैं। ज्यादातर हल्के लक्षण वाले मामले हैं।


कोरोना वॉरियर्स के लिए जारी की गई विशेष सुविधाओं में हमारे आदेश का विपक्षी दलों ने मजाक उड़ाया है। इससे मुझे बहुत दुख हुआ है। अगर हमने कोरोना वॉरियर्स के लिए विशेष व्यवस्था की है तो इसमें विपक्ष को तकलीफ नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना वॉरियर्स को क्या इलाज की सुविधा नहीं मिलनी चाहिए क्या? उन्होंने कहा कि ऐसी कठिन परिस्थितियों में राजनीति नहीं करनी चाहिए।


प्रवासी मजदूरों के बारे में उन्होंने अपील करते हुए कहा कि वो दिल्ली छोड़कर न जाएं। हमने आपके खाने-पीने का इंजताम किया है। अगर बहुत जरूरी है तो हम आपके जाने की जिम्मेदारी लेते हैं। हम केंद्र सरकार से बातचीत कर रहे हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।