Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Abhijit Banerjee, उनकी पत्नी Esther Duflo और Michael Kremer को मिला Economics का Noble

इन आर्थिक विशेषज्ञों को दुनिया भर में गरीबी हटाने को लेकर उनकी कोशिशों के लिए नोबल से नवाजा जा रहा है
अपडेटेड Oct 15, 2019 पर 09:19  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Noble Prize 2019 for Economic Sciences। भारतीय मूल के अमेरिकन इकोनॉमिस्ट अभिजीत बनर्जी को दुनिया भर में गरीबी हटाने को लेकर उनकी कोशिशों के लिए उन्हें नोबल पुरस्कार से नवाजा जा रहा है। बनर्जी को सोमवार को इकोनॉमिक साइंसेज का नोबल देने की घोषणा की गई। उनके लिए यह खुशी दोगुनी होगी क्योंकि उनकी इकोनॉमिस्ट पत्नी एस्टर डफ्लो को भी उनके साथ संयुक्त रूप से नोबल प्राइज दिया जा रहा है। इसके अलावा माइकल क्रेमर को भी इस नोबल से नवाजा जाएगा।


सोमवार को रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज ने Noble for Economic Sciences के लिए नामों की घोषणा करते हुए कहा कि इस फील्ड में इस साल का नोबल अभिजीत बनर्जी, एस्टर डफ्लो और माइकल क्रेमर को दुनिया भर से गरीबी हटाने के लेकर उनके एक्सपेरिमेंटल अप्रोच के लिए दिया जा रहा है।


1961 में कोलकाता में जन्मे अभिजीत बनर्जी ने जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी, प्रेसिडेंसी यूनिवर्सिटी और हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से शिक्षा ली है। फिलहाल वो मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में पढ़ाते हैं। उनकी पत्नी और नोबल प्राइज विनर एस्टर डफ्लो भी यहीं पढ़ाती हैं। वहीं, माइकल क्रेमर हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।