Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में तीन दिन के बाद हालात सामान्य, 4000 से ज्यादा पुलिस बल तैनात

इससे पहले दिल्ली के सीएम ने इलाके में कर्फ्यू लगाने और सेना को बुलाने की मांग की थी
अपडेटेड Feb 26, 2020 पर 16:15  |  स्रोत : Moneycontrol.com

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली के हालात बुधवार को सामान्य हो रहे हैं। पिछले तीन दिनों की हिंसा के बाद अब इन इलाकों में जिंदगी पटरी पर लौट रही है। पिछले दो दिनों से मौजपुर, बाबरपुर, चांदबाग और शिवविहार के मेट्रो स्टेशन बंद थे। हालांकि बुधवार से पिंक लाइन के सभी मेट्रो स्टेशन को खोल दिया गया है।


तीन दिनों तक चली इस हिंसा में अब तक इस हिंसा में 20 लोगों की मौत हो चुकी है और 189 से ज्यादा लोग घायल हैं। इन इलाकों में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए 4000 से ज्यादा पुलिस बल को तैनात किया गया है।


हालांकि बुधवार सुबह दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा है, "मैं पूरी रात कई लोगों के संपर्क में रहा। हालात खतरनाक हैं। तमाम कोशिशों के बावजूद पुलिस हालात पर काबू पाने की कोशिश कर रही है। लेकिन कामयाब नहीं हो पाई है। हालात नियंत्रित करने के लिए सेना बुलाना चाहिए और दूसरे इलाकों में भी तुरंत कर्फ्यू लगाना चाहिए। मैं इसके लिए गृह मंत्री को पत्र लिखने वाला हूं।"


इससे पहले दिल्ली हाई कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने कहा है कि नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हिंसा से जुड़ी याचिका की सुनवाई के दौरान पुलिस के अधिकारी भी मौजूद रहें।


दिल्ली पुलिस के एडिशनल DCP डी के गुप्ता ने ANI से कहा, "चांद बाग अस्पताल में 4 शव और 20 घायल थे। हाई कोर्ट के आदेश के मुताबिक, हमें इन लोगों को किसी दूसरे अस्पताल में शिफ्ट कराना था। सभी पीड़ितों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है।"


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।