Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

अच्छी लाइफस्टाइल जीने के लिए लोन तक लेने को तैयार हैं आधे भारतीय

Home Credit India की ओर से कराए गए एक सर्वे में सामने आया है ये ट्रेंड
अपडेटेड Aug 09, 2019 पर 10:07  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कहा जाता है कि भारतीय लोग कंजूस होते हैं, पाई-पाई का हिसाब रखते हैं और रुपए-पैसे का फैसला बहुत सोच-समझकर लेते हैं, लेकिन पिछले कुछ सालों में लोगों में उपभोक्तावाद और देश में कंज्यूमर कल्चर बढ़ने से लोगों का पैसे खर्च करने का तरीका बदला है, वहीं लोन लेने की प्रवृत्ति भी बढ़ी है।


जहां मार्केट में लोन के टाइप बढ़े हैं, वहीं, लोगों ने छोटी-छोटी जरूरतों के लिए भी लोन लेना शुरू कर दिया है। एक सर्वे में सामने आया है कि देश में लगभग आधे भारतीयों को अपनी लाइफस्टाइल इंप्रूव करने के लिए या कंज्यूमर गुड्स के लिए लोन लेने में कोई परेशानी नहीं है।


कंज्यूमर फाइनेंस प्रोवाइडर Home Credit India की ओर से कराए गए एक सर्वे में सामने आया है कि देश में आधे भारतीय मोबाइल फोन, टीवी, फ्रिज जैसी लाइफस्टाइल जरूरतों के लिए लोन लेने में कोई बुराई नहीं समझते।


सर्वे में सामने आया कि इसके अलावा भारतीय टू-व्हीलर्स (23.3 फीसदी) और पर्सनल एक्सपेंस (20.3 फीसदी) के लिए लोन लेते हैं। इसके बाद कार खरीदने (12.5 फीसदी) घर खरीदने (12 फीसदी) और सोना खरीदने (10.5 फीसदी) के लिए लोन लिया जाता है।


वहीं, एग्रीकल्चर लोन (0.7 फीसदी), क्रेडिट कार्ड EMI (1.1 फीसदी), ट्रैवल लोन (1.5 फीसदी) और मेडिकल लोन (3.7 फीसदी) सबसे कम लिया जाता है।


देश में लोगों की सेविंग्स, खर्च करने और उधार लेने की आदतों के बारे में पता लगाने के लिए हुए इस सर्वे में 12 शहरों से 2,571 लोगों को शामिल किया गया था। इनमें से 33 फीसदी लोगों ने कहा कि वो लाइफस्टाइल को बेहतर बनाने वाले कंज्यूमर गुड्स के लिए लोन लेंगे। 34 फीसदी लोगों ने कहा कि वो लोने लेने के लिए अपने दोस्तों से सलाह लेते हैं। वहीं, 31.8 फीसदी लोग अपने परिवार और 25.4 फीसदी लोग अपने सहयोगियों से एडवाइज लेते हैं।