Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

सेना में ट्रेनिंग की पहल को आनंद महिंद्रा ने किया सपोर्ट, कहा- हम नौकरी में देंगे प्राथमिकता

आनंद महिंद्रा ने युवाओं को सेना में तीन साल तक सेवा देने संबंधी प्रस्ताव का समर्थन किया है
अपडेटेड May 18, 2020 पर 09:02  |  स्रोत : Moneycontrol.com

आम लोगों के लिए सेना के टूर ऑफ ड्यूटी प्लान को लेकर जाने माने बिजनेसमैन आनंद महिंद्रा ने सेना से बात की है। उन्होंने कहा कि उन्हें सेना में तीन साल की सेवा पूरी कर चुके युवाओं के अपने यहां नौकरी देने में खुशी होगी। महिन्द्रा ने सेना को भेजे एक मेल में कहा कि मुझे हाल ही में भारतीय सेना के टूर ऑफ ड्यूटी नाम के उस प्रस्ताव के बारे में मालूम हुआ जिसमें शारीरिक रूप से फिट युवा नागरिकों को सेना में 3 साल की सेवा देना आवश्यक होगा। मुझे लगता है ये बेहद अच्छा होगा। ऐसे में इसके बाद महिन्द्र ग्रुप उन्हें नौकरी देने पर विचार करेगा।


नागरिकों में देश सेवा की भावना बढ़ाने और आम लोगों को भारतीय सेना से जोड़ने के लिए टूर ऑफ ड्यूटी का प्रस्ताव लाने पर विचार किया जा रहा है। यदि यह प्रस्ताव पारित हो जाता है तो ये देश के इतिहास में एक बड़ा क्रांतिकारी कदम होगा। इसके तहत युवाओं को तीन साल के लिए देश सेवा का मौका दिया जाएगा। इसके पहले चरण में टेस्ट प्रोजेक्ट के तौर पर 100 अधिकारियों व 1000 जवानों की भर्ती की जाएगी।


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक,इस प्रस्ताव के तहत देश के नागरिकों को सेना के प्रति नौकरी करने के लिए आकर्षित करना है। ताकि आम नागरिक भी सेना के जीवन का अनुभव ले सकें।


मौजूदा समय शार्ट सर्विस कमीशन (Short Service  Commission-SSC) के जरिए सबसे कम 10 साल के लिए युवाओं को सेना में भर्ती होने का मौका दिया जाता है। इसे 14 साल तक बढ़ाया जा सकता है।


इसके अतिरिक्त सेना इस बात पर भी विचार कर रही है कि अर्धसैनिक बलों के जवानों को भी कुछ समय के लिए सेना में काम करने का मौका दिया जाए। इसके लिए सेना इनवर्स इंडक्शन मॉडल  नाम के एक प्रस्ताव पर विचार कर रही है, जिसके तहत केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के जवानों को सेना में कुछ समय के लिए काम करने का मौका दिया जा सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।