Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

पंजाब में BJP विधायक की पिटाई पर बवाल, सोशल मीडिया पर घिरे CM अमरिंदर सिंह ने दी चेतावनी

BJP ने पंजाब में अपने विधायक अरुण नारंग पर हमले के लिए शनिवार को मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की अगुवाई वाली राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया
अपडेटेड Mar 30, 2021 पर 11:48  |  स्रोत : Moneycontrol.com

पंजाब में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के एक विधायक की शनिवार को मुक्तसर जिले के मलोट में किसानों के एक ग्रुप द्वारा पिटाई की गई और उनकी शर्ट फाड़ दी गई। अबोहर के विधायक अरुण नारंग (Arun Narang) एक प्रेस कॉन्फेंस को संबोधित करने के लिए मलोट गए थे, जिसका किसानों ने कड़ा विरोध किया और उनपर काली स्याही भी फेंकी।

इस दौरान नारंग के साथ कुछ किसानों ने मारपीट की और उनके कपड़े फाड़ दिए। इतना ही नहीं किसानों ने उनकी गाड़ी पर कालिख पोत दी। पुलिस भी भीड़ के सामने कुछ कर नहीं पाई। जैसे-तैसे विधायक और उनके साथी नेताओं ने उग्र किसानों से अपनी जान बचाई।


हालांकि, पुलिस उपाधीक्षक (मलोट) जसपाल सिंह ने फोन पर पीटीआई को बताया कि वहां तैनात पुलिस अधिकारी नारंग को निकालकर सुरक्षित जगह ले गए। वहीं, नारंग ने बताया कि उन्हें कुछ लोगों ने घूंसा मारा और उन लोगों ने उन पर काले रंग का तरल पदार्थ भी फेंका। किसानों से पिटने के बाद एक चैनल बातचीत में अरुण नारंग ने कहा कि वो मुझे मारने की प्लानिंग के साथ आए थे।


इस मामले में पुलिस ने 300 अज्ञात लोगों के खिलाफ IPC की धारा 307 के तहत यानी जान से मारने की कोशिश के आरोप में केस दर्ज किया है। संयुक्त किसान मोर्चा ने इस घटना पर खेद जताया है। वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भी इस घटना की निंदा की है और राज्य में शांति बिगाड़ने की कोशिश करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी। कैप्टन ने किसानों से भी अपील की कि वे ऐसे हिंसा वाले कार्यों में शामिल न हों।


विधायक से मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स और राजनीतिक दलों ने पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह को आड़े हाथों लिया है। ट्विटर पर हैशटैग #Khalistani ट्रेंड कर रहा है। इसमें यूजर मुख्यमंत्री को इस हमले का जिम्‍मेदार ठहराते हुए उन पर जमकर भड़ास निकाल रहे हैं। दूसरी ओर, कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन की अगुवाई कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा ने विधायक पर हुए इस हमले पर खेद जताया है।


वहीं, BJP ने पंजाब में अपने विधायक अरुण नारंग पर हमले के लिए शनिवार को मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की अगुवाई वाली राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।

एक बयान में BJP महासचिव अरुण सिंह ने विधायक के साथ किये गये दुर्व्यवहार को बर्बरतापूर्ण और दुखद बताया। पार्टी ने एक बयान में कहा कि BJP इस घटना की निंदा करती है जो कांग्रेस सरकार के संरक्षण में हुई। कांग्रेस की अमरिंदर सिंह सरकार इसके लिए सीधे तौर पर जिम्मेदार है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।