Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

कोरोना की नई गाइडलाइंस जारी, राज्यों को टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट प्रोटोकॉल पर फोकस करने के निर्देश

देश में अब एक अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग कोरोना वायरस की वैक्सीन लगवा सकेंगे
अपडेटेड Mar 24, 2021 पर 10:49  |  स्रोत : Moneycontrol.com

महाराष्ट्र और पंजाब समेत देश के कई राज्यों में कोरोना वायरस के नए मामलों में तेजी देखी जा रही है। इस बीच, केंद्रीय गृह मंत्रालय ( Ministry of Home Affairs) ने मंगलवार को कोरोना के बढ़ते प्रसार को रोकने के लिए नई गाइडलाइंस (Coronavirus Guidelines) जारी की। गृह मंत्रालय ने अप्रैल महीने के लिए गाइडलाइंस जारी किया है। नए गाइडलाइंस में राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों को मुख्य रूप से टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट की रणनीति पर काम करने पर जोर दिया गया है। साथ ही वैक्सीनेशन अभियान पर अधिक फोकस रखने के लिए कहा गया है। वहीं, जिन राज्यों में RT-PCR टेस्ट का आंकड़ा कम है, इसे बढ़ाए जाने के निर्देश दिए गए हैं।


केंद्र सरकार ने राज्यों से कोरोना टेस्टिंग को बढ़ाने की बात कही है और पॉजिटिव आए लोगों का इलाज सुनिश्चित करने को कहा है। MHA के मुताबिक, नई गाइडलाइन एक अप्रैल, 2021 से प्रभावी होंगी और 30 अप्रैल, 2021 तक लागू रहेंगी। राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को टेस्ट-ट्रैक और ट्रीट प्रोटोकॉल को सख्ती से लागू करने को कहा गया है। गाइडलाइंस में कहा गया है कि 70 फीसदी या उससे अधिक के निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को RT-PCR टेस्ट बढ़ाने की जरूरत है।


गाइडलाइन में आगे कहा गया है कि जब नए कोरोना केस का पता चले तो उसका समय पर इलाज हो और उसपर नजर रखी जाए। कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग के जरिए सभी संपर्क में आने वाले लोगों को क्वारंटीन में भेजा जाए। साथ ही कंटेनमेंट जोन की जानकारी जिलाधिकारी के वेबसाइट पर डालें और इस लिस्ट को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ शेयर करें। गाइडलाइन में मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन कराने के लिए उचित जुर्माने की भी बात कही गई है। सरकार ने कहा है कि कंटेनमेंट जोन में नियमों के पालन के लिए स्थानीय प्रशासन और पुलिस जिम्मेदार होंगे।


1 अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को लगेगा वैक्सीन


देश में अब एक अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग कोरोना वायरस की वैक्सीन लगवा सकेंगे। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंगलवार को यह जानकारी दी। जावड़ेकर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में यह निर्णय किया गया कि अब 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोग वैक्सीन लगवाने के पात्र होंगे। बता दें कि पहले 45 वर्ष से अधिक आयु के गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोग वैक्सीन लगवाने के पात्र थे। अब 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोग कोविड-19 वैक्सीन लगवा सकेंगे।


जावड़ेकर ने लोगों से कोरोना वैक्सीन की खुराक के लिए रजिस्ट्रेशन कराने की अपील की। देश में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान की शुरूआत 16 जनवरी को हुई थी और सबसे पहले डाक्टरों सहित स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन लगाया गया। इसके बाद कोविड के खिलाफ फ्रंटलाइन वर्करों को वैक्सीनेशन अभियान से जोड़ा गया। एक मार्च को अगले चरण में 60 वर्ष से अधिक आयु और गंभीर बीमारियों से ग्रसित 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को वैक्सीनेशन के दायरे में लाया गया।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।