Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

कोरोनावायरस से पस्त हुई चीन की इकोनॉमी, बेंचमार्क लेंडिंग रेट में की कटौती

चीन ने अपनी सुस्त पड़ती इकोनॉमी को सपोर्ट करने के लिए अपने बेंचमार्क लेंडिंग रेट में कटौती की है
अपडेटेड Feb 20, 2020 पर 14:49  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोनावायरस (Coronavirus) से जूझ रहे चीन ने अपनी सुस्त पड़ती इकोनॉमी (Chinese Economy) को सपोर्ट करने के लिए अपने बेंचमार्क लेंडिंग रेट (Benchmark Lending Rate) में कटौती की है। संभावना जताई जा रही थी कि चीन इकोनॉमी को सपोर्ट करने के लिए अपने बिजनेसेज का खर्च कम करेगा, जिसके तहत लेंडिंग रेट्स में कटौती की जा सकती है।


Reuters की रिपोर्ट के मुताबिक, एक साल के लोन का प्राइम रेट (one-year loan prime rate) यानी LPR में 10 बेसिस पॉइंट की कटौती की गई है। इसे 4.15 फीसदी से 4.05 फीसदी पर किया गया है।


पांच साल के लोन के प्राइम रेट (five-year LPR) में पांच बेसिस पॉइंट की कटौती की गई है। इसे 4.80 फीसदी से 4.75 फीसदी कर दिया गया है।


Reuters के एक स्नैप सर्वे में हिस्सा लेने वाले 51 लोगों ने LPR में कटौती की संभावना जताई थी। वहीं 75 फीसदी लोगों ने दोनों ही कैटेगरी में 10 बेसिस पॉइंट की कटौती की उम्मीद जताई थी।


बता दें कि कोरोनावायरस के चलते चीन का कमोडिटी और शेयर बाजार हिट हुए हैं। चीन में कमोडिटी की कीमतें कम हो गई हैं। चीन की इकोनॉमिक एक्टिविटी में अगर कोई लॉन्ग टर्म डिसरप्शन आता है तो वहां के शेयर बाजार को और झटका लग सकता है। मौजूदा हालात को देखते हुए citigroup ने चीन की इकोनॉमी की ग्रोथ का अनुमान 5.8 फीसदी से घटाकर 5.5 फीसदी कर दिया है। 
 
हालांकि बाजार के जानकारों का कहना है कि शेयर बाजार पर इसका लॉन्ग टर्म नुकसान नहीं होगा। SARS, स्वाइन फ्लू, इबोला जैसी बीमारियों का मार्केट पर असर हुआ है लेकिन फिर इसमें तेजी से सुधार भी हुआ।


चीन में आर्थिक गतिविधियां थमने से क्रूड प्राइस के दाम गिर गए हैं। क्रूड के दाम जिस लेवल पर आ गए हैं उस पर वह 2018 के बाद तक नहीं पहुंचे थे। इस साल जनवरी के अपने पीक से क्रूड के दाम 25 फीसदी गिर चुके हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।