Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

अगस्त 2019 में कोर सेक्टर की ग्रोथ घटकर 0.5 फीसदी रही

कोर सेक्टर के इन आंकड़ों से रिजर्व बैंक इस हफ्ते पॉलिसी रिव्यू में इंटरेस्ट रेट घटाने का फैसला कर सकता है
अपडेटेड Oct 01, 2019 पर 09:19  |  स्रोत : Moneycontrol.com

भारत के 8 इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर की ग्रोथ अगस्त में घटकर सिर्फ 0.5 फीसदी रह गई। इन 8 सेक्टर को कोर सेक्टर भी कहते हैं। अगस्त 2019 में खासतौर पर इलेक्ट्रिसिटी और सीमेंट सहित 5 सेक्टर की ग्रोथ सबसे कमजोर रही। जुलाई 2019 में फैक्ट्री आउटपुट में जो रिकवरी देखी गई थी वो अस्थायी और मामूली थी। पिछले साल अगस्त में 8 कोर सेक्टर की ग्रोथ 4.7 फीसदी थी।


इस साल अगस्त में कोल प्रोडक्शन की ग्रोथ -8.6 फीसदी, क्रूड ऑयल -5.4 फीसदी, नेचुरल गैस -3.9 फीसदी, सीमेंट -4.9 फीसदी और इलेक्ट्रिसिटी -2.9 फीसदी रही। इस दौरान जिन सेक्टर की ग्रोथ सकारात्म रही, उनमें 2.6 फीसदी के साथ रिफाइनरी प्रोडक्ट्स, 2.9 फीसदी के साथ फर्टिलाइजर्स और 5 फीसदी ग्रोथ के साथ स्टील है।


कोर सेक्टर के इन आंकड़ों से रिजर्व बैंक इस हफ्ते पॉलिसी रिव्यू में इंटरेस्ट रेट घटाने का फैसला कर सकता है। जून तिमाही में प्राइवेट फाइनल कंजम्पशन एक्सपेंडिचर ग्रोथ घटकर 3.1 फीसदी पर आ गया। यह पिछली 18 तिमाहियों का सबसे निचला लेवल है।  


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।