Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Coronavirus lockdown: क्या RWA घरेलू नौकर, ड्राइवर या अन्य सर्विसेस रोक सकते हैं?

ज्यादातर रेजिडेंट वेल्फेयर एसोसिएशन ने नौकरों और ड्राइवरों के काम करने पर रोक लगा दी है
अपडेटेड May 08, 2020 पर 13:07  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना महामारी के कारण जब से लॉकडाउन लागू किया गया है और आंशिक रूप से हटाया गया है तब से ज्यादातर नागरिकों के मन में प्रश्न है कि इस दौरान किस बात की परमिशन है और किस बात की नहीं है। ज्यादातर रेजिडेंट वेल्फेयर एशोसिएशन (RWA) द्वारा उनके रहिवासी सदस्यों के लिए जारी किये गये निर्देशों से दुविधा और असमंजस बढ़ रहा है। कुछ लोगों ने उनके निर्देश मानने से इनकार कर दिया है उनका तर्क है कि रेजिडेंट वेल्फेयर एसोसिएशन (RWA) को ऐसे आदेश देने का कानूनी अधिकार ही नहीं है।


ऐसी कई रिपोर्ट सामने आई हैं जिसमे कई रेजिडेंशियल सोसाइटियों ने उनके सदस्यों को बाहर कंपाउंड में निकलकर चलने-फिरने पर रोक लगाई है और कहा है नियमानुसार इसकी भी परमिशन नहीं है। कुछ ने पिज्जा डिलीवरी और अखबार डिलीवरी पर भी एडवाइजरी जारी की है। कुछ सोसाइटियों ने अपने पालतु कुत्ते के साथ केवल 15 मिनट चलने-फिरने की अनुमति प्रदान की है और घरेलू नौकर एवं सभी हाउस हेल्प पर प्रतिबंध लगा दिया है।


इस बारे में गृह मंत्रालय ने 5 मई को विस्तृत गाइडलाइंस जारी की है जिसमें कई लोगों को काम करने की अनुमति प्रदान की गई है। इसमें कहा गया है कि घरेलू नौकर, अन्य घरेलू सेवादार (हाउस हेल्प) और ड्राइवर्स काम पर आ सकते हैं। जबकि कुछ मीडियो रिपोर्ट्स का कहना है कि रेजिडेंट वेल्फेयर एशोसिएशन घरेलू नौकरों को उनके काम पर आने से रोक नहीं सकते हैं। वहीं दिल्ली सरकार ने भी घरेलू नौकरों को उनकी सेवाएं उपलब्ध कराने की अनुमति दी है। एक दूसरी रिपोर्ट के मुताबिक संबंधित प्रशासन ने भी घरेलू नौकरों को प्रवेश देने की अनुमति दी है।


इस बीच गौतम बुद्ध नगर प्रशासन ने 6 मई को कोरोनावायरस पर गाइडलाइंस जारी की है जिसमें स्पष्ट रूप से कहा गया है कि रेजिडेंट वेल्फेयर एशोसिएशन रहिवासियों की आम सहमति से सोसाइटी के अंदर घरेलू नौकर और अन्य सेवादारों को परमिशन देने का निर्णय ले सकते हैं। इसके लिए ये जरूरी है कि वे नॉन-कंटेनमेंट जोन में रहते हों और उनकी थर्मल स्क्रीनिंग भी होनी चाहिए। हालांकि बाहर निकल कर घूमने-फिरने और मेहमानों पर घर बुलाने की परमिशन नहीं होगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।