Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Coronavirus pandemic| रतन टाटा ने 1500 करोड़ रुपये दान करने का किया ऐलान

रतन टाटा ने कहा कि टाटा ट्रस्ट और टाटा ग्रुप की कंपनियां पहले भी देश की जरूरतों के लिए आगे आई हैं। इस समय इसकी सबसे अधिक जरूरत है
अपडेटेड Mar 30, 2020 पर 09:17  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना से पूरी दुनिया त्रस्त है। चारो तरफ हाहाकार मचा हुआ है। संकट की इस घड़ी में देश उद्योगपति इस मुश्किल समय में अपना सहयोग कर रहे हैं। टाटा ग्रुप ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए 1500 करोड़ रुपये दान किए है। इसमें टाटा ट्रस्ट ने 500 करोड़ रुपये का फंड दिया है और टाटा सन्स ने भी 1000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त फंड दिया है।


28 मार्च को किए गए एक ट्वीट में रतन टाटा ने पोस्ट शेयर करते हुए बताया कि कैसे टाटा ट्रस्ट और ग्रुप की कंपनियां COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए भारत के साथ इस लड़ाई में मदद करेंगी।


रतन टाटा ने अपने ट्वीट में कहा है कि- COVID 19 संकट सबसे कठिन चुनौतियों में से एक है, जिसका हमारी पीढ़ी सामना करेगी। टाटा ट्रस्ट और टाटा ग्रुप की कंपनियां पहले भी देश की जरूरतों के लिए आगे आई हैं। इस समय इसकी सबसे अधिक आवश्यकता है। 


रतन टाटा ने भारत में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए इस फंड का इस्तेमाल फ्रंटलाइन में काम कर रहे मेडिकल कर्मियों के लिए चिकित्सा, रेसपिरेटरी सिस्टम(respiratory systems), टेस्टिंग किट और जो लोग वायरस से संक्रमित हैं, उनके लिए इलाज की सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए होगा। ग्रुप ने यह भी कहा है कि वह स्वास्थ्य कर्मियों और आम लोगों को कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए ट्रेनिंग देगा।


रतन टाटा की घोषणा के बाद टाटा सन्स के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए 1000 करोड़ रुपये दान करने की घोषणा की है।


देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए और स्वास्थ्य कर्मचारियों के सामने आई चुनौती की वजह से, कुछ दूसरे उद्योगपति भी संकट की इस घड़ी में मदद के लिए अपना हाथ बढ़ाया है। महिंद्रा एंड महिंद्रा (Mahindra and Mahindra) ग्रुप के आनंद महिंद्रा ने इससे पहले महिंद्रा के रिजॉर्ट्स को संक्रमित लोगों की केयर फैसिलिटी के तौर पर इस्तेमाल करने की पेशकश की थी। महिंद्रा ग्रुप वेंटिलेटर उपलब्ध कराने पर भी काम कर रहा है जो संक्रमित लोगों के इलाज में बहुत महत्वपूर्ण है।


रिलायंस फाउंडेशन ने सेवेन हिल्स अस्पताल में 100 बेड का COVID-19 अस्पताल बना दिया है। कंपनी की तरफ से हेल्थ वर्कर्स के लिए मास्क, प्रोटेक्टिव सूट वितरण भी हो रहा है। रिलायंस ने महाराष्ट्र CM रिलीफ फंड में  5 करोड़ रुपये दिए हैं।
बता दें कि देश में कोरोना के कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 918 हो गई है। इस जानलेवा वायरस से अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है और 80 लोग ठीक हो चुके हैं। वही पिछले 24 घंटे में 150 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं।
केरल में छह, महाराष्ट्र में 8 तो राजस्थान में चार नए मामले सामने आए हैं। दिल्ली में भी पांच नए मामले सामने आए हैं। साथ ही केरल में कोरोना से पहली मौत हो गई है, देश में पहला मामला केरल से ही आया था। दूसरी ओर पीएम मोदी ने PM-CARES फंड का गठन किया है, जिसमें कोई भी दान कर सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook(https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।