Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Coronavirus: मंदी में जाएगी वर्ल्ड इकोनॉमी, भारत-चीन के बचने की उम्मीद-UN

UN ने रिपोर्ट में इसकी वजह नहीं बताई गई है कि पूरी दुनिया के मंदी में जाने के बावजूद भारत और चीन कैसे बच सकते हैं
अपडेटेड Apr 01, 2020 पर 08:32  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोनावायरस (Coronavirus) संक्रमण के कारण इस साल वर्ल्ड इकोनॉमी मंदी में चली जाएगी। संयुक्त राष्ट्र (UN) की एक रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोनावायरस की वजह से लाखों करोड़ डॉलर की ग्लोबल इनकम का नुकसान हुआ है। UN की रिपोर्ट के मुताबिक, इंडिया और चीन को छोड़कर बाकी देशों के लिए मुश्किल कहीं ज्यादा है। हालांकि इस रिपोर्ट में इस बात की वजह नहीं बताई गई है कि पूरी दुनिया के मंदी में जाने के बावजूद भारत और चीन कैसे बच सकते हैं।


दुनिया भर की दो तिहाई आबादी विकासशील देशों में रहती है। Covid-19 के संक्रमण की वजह से इन देशों की इकोनॉमी गहरे संकट में फंसेगी। UN ने कहा कि इन देशों  के लिए 2.5 लाख करोड़ रुपए के राहत पैकेज की जरूरत होगी।


United Nations Conference on Trade and Development (UNCTAD) के नए एनालिसिस के मुताबिक, डेवलपिंग देशों पर कोरोना के संकट का असर बहुत बुरा होगा। जो देश कमोडिटी का निर्यात करते हैं वहां विदेशी निवेश अगले दो साल में 2 लाख करोड़ डॉलर से 3 लाख करोड़ डॉलर तक कम हो सकता है। 


UNCTAD ने हाल ही में कहा था कि G20 के मुताबिक,  एडवांस इकोनॉमी और चीन ने अपनी-अपनी इकोनॉमी को भारी-भरकम राहत पैकेज दिए हैं। ये राहत पैकेज 5 लाख करोड़ रुपए तक के होंगे।


UNCTAD ने कहा, "इस साल दुनिया की तमाम इकोनॉमी मंदी में फंसने वाली है। इन देशों को लाखों करोड़ डॉलर का लॉस होगा। इससे विकासशील देशों की मुश्किलें बढ़ेंगी लेकिन चीन और इंडिया इसमें अपवाद साबित हो सकते हैं।" UN की इस रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया भर में कोरोनावायरस से अब तक 35,000 से ज्यादा मौत हो चुकी है और 7.50 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।