Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

ऑनलाइन शराब की डिलीवरी हो सकती है तो बीज-खाद की क्यों नहीं?

जल्द ही मॉनसून शुरू होने वाला है, ऐसे में किसानों को कोई दिक्कत ना हो इसलिए यह कदम उठाया जा रहा है
अपडेटेड May 20, 2020 पर 12:14  |  स्रोत : Moneycontrol.com

महाराष्ट्र के किसानों को उर्वरक और बीज की दिक्कत ना हो इसलिए ऑनलाइन बिक्री के जरिए उन्हें ये चीजें पहुंचाने की मांग की गई है। कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से लगातार लॉकडाउन बढ़ रहा है।


औरंगाबाद के कृषि विशेषज्ञ विजय अन्ना बोर्डे ने मंगलवार को बताया कि कृषि सप्लाई चेन अभी तक पूरी तरह काम नहीं कर रही है और मॉनसून भी जल्द शुरू होने वाला है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने शराब की आनलाइन डिलीवरी शुरू की है लिहाजा किसानों के लिए भी उर्वरक और बीज की ऑनलाइन बिक्री शुरू करनी चाहिए।


बोर्डे ने कहा, "अगर शराब की आनलाइन बिक्री की जा सकती है तो फिर बीज और उर्वरक की ऑनलाइन बिक्री क्यों नहीं हो सकती है। इन्हें भी सीधे किसानों के घर पर पहुंचाया जाना चाहिए।"


उन्होंने कहा कि लॉकडाउन खत्म होते ही किसानों को कृषि मंडियों में दौड़ना पड़ेगा, जिससे वहां भी भीड़भाड़ बढ़ जाएगी। पिछले साल की फसल अभी भी किसानों के पास पड़ी है। ऐसे हालात में संक्रमण से बचने के लिए सरकारी एजेंसियों को किसानों के घर से ही फसल उठानी चाहिए। बोर्डे ने कहा कि किसानों के सामने ट्रांसपोर्टेशन की भी समस्या है।