Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

Trump India Visit: ट्रेड डील पर US-इंडिया के बीच बातचीत शुरू, पढ़िए, मोदी-ट्रंप के स्पीच की बड़ी बातें

भारत ने अमेरिका के साथ 3 बिलियन डॉलर्स की डिफेंस डील की है, वहीं एनर्जी सेक्टर में भी 20 बिलियन डॉलर्स की डील पर हस्ताक्षर हुए है
अपडेटेड Feb 26, 2020 पर 09:13  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Modi-Trump Joint Statement। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की दो दिवसीय भारत यात्रा अपने अंतिम चरण में है। दोनों देशों के डेलीगेशन ने मंगलवार की दोपहर द्विपक्षाय बैठक की, जिसमें अमेरिका-भारत के बीच कई अहम समझौतों पर हस्ताक्षर हुए हैं।


भारत ने अमेरिका के साथ 3 बिलियन डॉलर्स की डिफेंस डील की है, वहीं एनर्जी सेक्टर में भी 20 बिलियन डॉलर्स की डील पर हस्ताक्षर हुए हैं। जहां तक ट्रेड डील की बात है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि भारत ट्रेड डील को लेकर अमेरिका के साथ नेगोसिएशन कर रहा है। उन्होंने कहा कि भारत अमेरिका के साथ एक ओपन और संतुलित ट्रेड डील की उम्मीद कर रहा है।


अमेरिकी प्रेसिडेंट ट्रंप ने अपने संबोधन में भारत में हुए अपने स्वागत के लिए धन्यवाद कहा। उन्होंने कहा- यह यात्रा बहुत ही शानदार रही और हम इसे हमेशा याद रखेंगे। ट्रंप ने यह भी कहा कि भारत-अमेरिका की यह पार्टनरशिप पहले से ज्यादा मजबूत है।


यहां दोनों नेताओं ने जॉइंट स्टेटमेंट जारी किया, जिसकी अहम बातें ये रहीं-


- पीएम मोदी ने अपनी स्पीच में कहा कि उनकी प्रेसिडेंट ट्रंप से पिछले आठ महीनों में यह पांचवीं मुलाकात है। कल के इवेंट से यह साबित हुआ कि भारत और अमेरिका के संबंध दो सरकारों के बीच नहीं बल्कि लोगों के हितों को केंद्र में रखने वाले हैं।


- पीएम ने कहा- यह संबंध,21वीं सदी की सबसे अहम पार्टनरशिप्स में है इसलिए आज राष्ट्रपति Trump और मैंने हमारे संबंधों को वैश्विक रणनीतिक साझेदारी के स्तर पर ले जाने का निर्णय लिया है।


- पीएम ने बताया कि दोनों देशों ने इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ लड़ने और पाकिस्तान की धरती पर हो रही टेरर फंडिंग को रोकने के लिए उसपर दबाव बनाने के लिए साथ आने का फैसला किया है। उन्होंने बताया कि उन्होंने अमेरिका के साथ मिलकर ड्रग्स और opiod crisis से लड़ने का भी फैसला किया है। दोनों देशों के बीच ड्रग ट्रैफिकिंग, नार्को-टेरेरिज्म और ऑर्गनाइज्ड क्राइम जैसी समस्याओं के बारे में एक नया मैकेनिज्म तैयार करने को लेकर समझौता हुआ है।


- पीएम ने कहा कि दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग अहम है। दोनों देशों के डिफेंस मैन्यूफैक्चरर एक दूसरे की सप्लाई की चेन का हिस्सा बन रहे हैं। उन्होंने बताया कि होमलैंड सिक्योरिटी का स्तर बढ़ाने को लेकर बातचीत हुई है।


- दोनों देशों की एनर्जी पार्टनरशिप और मजबूत हुई है। तेल और गैस के लिए अमेरिका भारत का एक बहुत अहम स्रोत बन गया है। पिछले तीन वर्षों में हमारे द्विपक्षीय व्यापार में डबल डिजिट में ग्रोथ हुई है।


- पीएम ने कहा कि दोनों देशों ने साथ में एक बड़ी ट्रेड डील करने पर सहमति जताई है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों की टीमें इस ट्रेड डील को लीगल फॉर्म देंगी। उम्मीद है कि ट्रेड पर नेगोसिएशन और बातचीत से दोनों ही देशों को फायदा होगा।


- अमेरिकी प्रेसिडेंट डॉनल्ड ट्रंप ने अपनी स्पीच में इस भव्य स्वागत के लिए शुक्रिया अदा किया और भारत के साथ मिलकर ग्लोबल टेररिज्म के खिलाफ लड़ने की बात दोहराई।


- ट्रंप ने कहा कि दोनों देशों ने एडवांस्ड अमेरिकन मिलिट्री इक्विपमेंट के लिए 3 बिलियन डॉलर्स की डील की है, जिसमें अपाचे और MH-60 रोमियो हेलिकॉप्टर्स भी शामिल हैं।


- ट्रेड डील पर ट्रंप ने कहा कि दोनों देशों की टीमें इसपर काम कर रही हैं और उन्हें उम्मीद है कि समझौते से दोनों देशों की फायदा होगा। ट्रंप ने कहा- मेरे सत्ता में आने के बाद से अमेरिका के भारत को किए जाने वाले निर्यात में 60% की बढ़त और हाई क्वालिटी अमेरिकन एनर्जी का एक्सपोर्ट बढ़कर 500% हुआ है। ट्रंप ने बताया कि दोनों देशों ने 5G वायरलेस नेटवर्क पर भी बातचीत की है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।