Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

US-China Trade Talk से पहले बोले ट्रंप- मुश्किल में है चीन, उसे ट्रेड डील की जरूरत

दो महीनों में पहली बार अमेरिका और चीन दोबारा ट्रेड डील पर नेगोसिएशन के लिए मिल रहे हैं
अपडेटेड Oct 10, 2019 पर 18:34  |  स्रोत : Moneycontrol.com

दो महीनों में पहली बार अमेरिका और चीन दोबारा ट्रेड डील पर नेगोसिएशन के लिए मिल रहे हैं। गुरुवार को दोनों देश फिर से ट्रेड डील की पेचीदगियों का समाधान ढूंढने के लिए मिल रहे हैं। इसके ठीक पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि कई दशकों के अपने सबसे मुश्किल समय से गुजर रहे चीन को अमेरिका के साथ ट्रेड डील की जरूरत है।


राष्ट्रपति ट्रंप ने वाइट हाउस में पत्रकारों से कहा- इस समय चीन मुश्किल दौर से गुजर रहा है। मुझे लगता है कि इस समय उनको डील की बेहद जरूरत है। ऐसे में कई चीजें है जो काफी रोमांचक हैं।


ट्रंप ने इस दौरान कहा कि चीन के साथ कुछ शानदार समझौतों पर बातचीत चल रही है। उन्होंने कहा- दोनों देश करीब एक साल से बातचीत कर रहे हैं लेकिन यह अभी सफल नहीं हुई है। कई शानदार करारों पर बात हो रही है। ऐसे में इसके बावजूद हमारी अर्थव्यवस्था और बाजार शानदार हैं।


उन्होंने कहा- मेरी राय में चीन हमसे अधिक ट्रेड डील चाहता है। ट्रंप ने यह भी कहा कि वह करार के बिना भी खुश हैं।


इस ट्रेड मीट में अमेरिका की अगुवाई ट्रेड रिप्रेजेंटिटिव रॉबर्ट लाइटहाइजर और फाइनेंस मिनिस्टर स्टीवन म्यूचिन कर रहे हैं। चीन के डेलीगेनश की अगुवाई उप प्रधानमंत्री ल्यू ही करेंगे।


अमेरिका-चीन के इस ट्रेड टॉक के पहले ऐसी रिपोर्ट आई हैं कि चीन अमेरिका के साथ पार्शियल डील के लिए तैयार हो गया है। वहीं, एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस मीट में ज्यादा कुछ नहीं होगा। हो सकता है कि अमेरिका साल के अंत तक कुछ टैरिफ हटाने को तैयार हो जाए लेकिन इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी और टेक्नोलॉजी ट्रांसफर को लेकर अभी भी कोई बात न हो और इसे आगे के लिए टाल दिया जाए।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।