Moneycontrol » समाचार » ख़बरें

7500 रुपए से ज्यादा मेंटेनेंस है तो देना होगा 18% GST

AAR ने आगे साफ किया कि जिनके पास एक ही हाउसिंग सोसायटी में दो या दो से ज्यादा रेजिडेंशियल अपार्टमेंट हैं वहां हर फ्लैट को अलग माना जाएगा
अपडेटेड Aug 06, 2019 पर 18:13  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अगर आप महंगी सोसायटी में रहते हैं तो अब आपका मेंटनेंस चार्ज बढ़ सकता है। अभी 7500 रुपए या इससे ज्यादा मेंटेनेंस चार्ज देने वालों को अब इस पर GST भी चुकाना पड़ सकता है।


तमिलनाडु अथॉरिटी फॉर एडवांस रूलिंग (AAR) ने हाल ही में GST पर स्पष्टता को लेकर एक नोटिफिकेशन जारी किया है। AAR ने कहा है कि अगर मेंटनेंस चार्ज 7500 रुपए या इससे ज्यादा है तो उसपर ऊपर से GST चुकाना होगा। 


AAR ने अपने फैसले में कहा है कि अगर रेजिडेंट वेलफयर एसोसिएशन (RWA) किसी फ्लैट से हर महीने 7500 रुपए रुपए मेंटेनेंस चार्ज ले रहा है तो उस पर 18 फीसदी GST भी चुकाना होगा। हालांकि अगर रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन का एनुअल कलेक्शन 20 लाख रुपए से ज्यादा नहीं है तो GST से छूट मिल सकता है। दूसरे शब्दों में कहें तो जिन RWA की सालाना टर्नओवर 20 लाख रुपए से ज्यादा है वहां 7500 रुपए से ज्यादा मेंटेनेंस चार्ज देने वालों को GST भी चुकाना होगा।


AAR ने आगे साफ किया कि जिनके पास एक ही हाउसिंग सोसायटी में दो या दो से ज्यादा रेजिडेंशियल अपार्टमेंट हैं वहां हर फ्लैट को अलग माना जाएगा। यानी दोनों के लिए अलग-अलग हर महीने 7500 रुपए की सीलिंग होगी।


मान लीजिए एक ही सोसायटी में आपके दो फ्लैट हैं और उस पर कुल 14,000 रुपए मेंटेनेंस चार्ज चुका रहे हैं। ऐसे में हर फ्लैट के हिसाब से यह सिर्फ 7000 रुपए हुआ। ऐसे में GST में छूट का फायदा मिलेगा।